योगी के रामराज्य में अब मंदिरों के अंदर और भगवान राम के सामने, पुजारी के बेटे कर रहे हैं बलात्कार !

0
444
Loading...

उझानी (बदायूं) : परिवार के साथ मंदिर परिसर में रहने वाले पुजारी के दो बेटों ने मंदिर स्थल की पवित्रता तार-तार कर दी । दोनों ने कक्षा-6 में पढ़ने वाली 11 वर्षीय छात्रा को मंदिर में बुलाकर एक कमरे में बंधक बनाने के बाद सामूहिक दुष्कर्म किया,इतना ही नहीं अपने दोस्त से वीड़ियो भी बनवाया ।

छात्रा के घर वालों के पुजारी से शिकायत करने पर पुजारी और उसकी पत्नी ने छात्रा के पूरे परिवार उल्टा धमकाया । पुलिस ने पाँचों आरोपियों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कर पुजारी के एक आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया है ।

सामूहिक दुष्कर्म की यह घटना करीब 15 दिन पहले की है । वीड़ियों को वायरल कर देने की धमकी से ड़री छात्रा पिछले 15 दिनों से ड़री-सहमी रहती थी,माँ के कुरेदने पर छात्रा का दर्द छलक उठा और छात्रा ने रोते हुये पूरी आपबीती अपनी माँ को बतायी । छात्रा के घरवाले सबसे पहले उझानी गाँव निवासी पुजारी बृजकिशोर चौहान के पास पहुँचे,उन्होंने वह वीड़ियो क्लिप मांगी जिसे गैंगरेप के दौरान पुजारी के लड़कों ने बनाया था ।

पुजारी और उसकी बीवी उस वक्त तो कुछ नहीं बोले लेकिन शाम को छात्रा के घर पहुँकर कहा कि आगे किसी से कुछ बोला या कुछ किया तो तुम्हारी बेटी का वो वीड़ियो वायरल कर दिया जायेगा ।
छात्रा के पिता ने बताया कि पुजारी के बेटों 21 वर्षीय अमित और एक अन्य ने अपने दोस्त उवैद के मोबाइल फोन से वीडियो बनाया था। घटना के बाद उनकी बेटी दहशत में आ गई और गुमसुम रहने लगी। उसके व्यवहार में परिवर्तन दिखने पर उसकी मां ने बेटी से वजह पूछी तो उसने पूरी बात बताई। रविवार को उन्होंने पुलिस को पूरे घटना की जानकारी दी।

पुलिस ने अमित और उसके भाई पर सामूहिक दुष्कर्म करने, उनकी मां सीमा और पिता बृजकिशोर व दोस्त उवैद पर धमकाने समेत गालीगलौज करने की धाराओं में नामजद रिपोर्ट दर्ज कर ली। कोतवाल संजय गोयल ने बताया कि अमित को गिरफ्तार कर लिया गया है। सीमा भी पुलिस की हिरासत में बताई गई है। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की। सीमा ने अपने छोटे बेटे के नाबालिग होने का दावा किया है।

Loading...