15 साल बाद मायावती लड़ेंगी लोकसभा का चुनाव, देखें किस सीट से लड़ सकती हैं चुनाव !

0
9

नोएडा, 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए माहौल तैयार होने लगा है। जहां सपा और बसपा के मिलकर चुनाव लड़ने की चर्चा जोरों पर है तो वहीं राजनीतिक गलियारों में बसपा प्रमुख मायावती के 15 साल बाद लोकसभा चुनाव लड़ने की चर्चा भी जोरों पर है। आखिरी बार मायावती 2004 में अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ी थीं।

चर्चा है कि बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती अगला लोकसभ चुनाव पश्चिमी उत्तर प्रदेश से लड़ेंगी। इस खबर से ही राजनीतिक गलियारों में हलचल पैदा हो गई है। खबर है कि मायावती बुलंदशहर से लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं। बुलंदशहर उनके पैतृक गांव बादलपुर के पास भी है।

बताया जा रहा है कि मायावती के बुलंदशहर से लड़ने के कारण वेस्‍ट यूपी में बसपा को 2009 लोसकभा चुनाव जैसी सफलता मिल सकती है। 2009 के आम चुनाव में बसपा को सबसे ज्यादा 21 सीटें मिली थीं। इसके अलावा यह भी तर्क दिया जा रहा है कि अब अकबरपुर सामान्य सीट हो गई है। इस वजह से वह वेस्‍ट यूपी से चुनाव लड़ सकती हैं।

बसपा सूत्रों के मुताबिक, बुलंदशहर से सटे हुए आगरा व हाथरस की लोकसभा सीटें आरक्षित हैं। इतना ही नहीं गौतमबुद्धनगर स्थित गांव बादलपुर मायावती का पैतृक गांव है। इसके साथ ही यहां से अगर वह चुनाव लड़ती हैं तो इसका असर बुलंदशहर के आसपास के जिलों जैसे अलीगढ़ , मेरठ, हापुड़, गाजियाबाद और गौतमबुद्ध नगर पर भी पड़ेगा। पश्चिमी यूपी में इस समय नगीना, आगरा, बुलंदशहर, हाथरस आदि आरक्षित सीटें हैं। उन्‍होंने यह भी कहा कि अब मायावती को चुनाव लड़कर कार्यकर्ताओं में जोश भरने की जरूरत है। यह मौका भी अच्‍छा है क्‍योंकि नगर निगम चुनाव में बसपा ने अच्‍छा प्रदर्शन भी किया था।

Loading...