अखिलेश की गिरफ्तारी से सड़कों पर उतरा जनसमूह देख योगी सरकार के हाथ पाँव फूले, 1 घंटे बाद किया रिहा!

0
839

 

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को गिरफ्तारी के एक घंटे बाद योगी सरकार की पुलिस ने रिहा कर दिया है,बता दें कि जिला पंचायत के चुनाव में नामांकन के दौरान हुए बवाल के बाद आज औरेया जाने के लिए ‌निकले अखिलेश यादव को गुरुवार को उन्नाव-एक्सप्रेस वे पर हिरासत में ले‌ लिया गया। पुलिस उन्हें लेकर हसनगंज के कृषि विज्ञान केंद्र पहुंची। यहां तकरीबन एक घंटा हिरासत में रखने के बाद उन्हें रिहा कर दिया गया।

हसनगंज से लखनऊ के लिए रवाना हुआ अखिलेश का काफिला –

वहीँ औरैया में जिला जजी के सामने सपा के पूर्व सांसद प्रदीप यादव की पेशी हो गई। इसके बाद में ही अखिलेश को छोड़ा गया है। बता दें अखिलेश उन्हीं से मिलने आज सवेरे औरैया जाने वाले थे लेकिन इससे पहले ही उन्हें हिरासत में ले लिया गया। इस बीच सपा कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भर में अलग-अलग जगह प्रदर्शन किए।

बाद में अखिलेश ने मीडिया से बातचीत के दैरान कहा ‘दरअसल, भाजपा नहीं चाहती थी कि जिला पंचायत चुनाव में सपा प्रत्याशी का नामांकन दाखिल हो क्योंकि वे अच्छी तरह से जानते थे कि यहां कोई भी सदस्य उनके पक्ष में नहीं है, इसलिए उन्होंने सपा प्रत्याशी का नॉमीनेशन ही फाइल नहीं होने दिया। पूरी मंशा के साथ सपा केंडिडेट को जिला पंचायत चुनाव में लड़ने से रोका गया है।’

अखिलेश यादव ने भाजपा पर किया तीखा हमला –

अखिलेश के 6 तीखे वार !

1) सरकार सत्ता के बल पर जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव जितना चाहती है।
2) हमने शिकायत चुनाव आयोग से की, डीसीपी को की, कहा-ये सरकार चुनाव नहीं होने देना चाहती।
3) भाजपा केवल गाय की राजनीति कर रही है।
4) हमारे साथ नौजवान कार्यकर्ता कर रहे हैं नारेबाजी,पुलिस के दम पर तानाशाही नही चलेगी।
5) पुलिस अच्छी झाड़ू लगाती है मुझे पहले नही पता था ।
6) मेरे कार्यकर्ताओं ने औरैया में तोड़फोड़ नही की,उन्हें गलत फसाया गया है।

Loading...