योगी की एंटी रोमियो टीम का कारनामा – शोहदों की जगह भाई-बहन को पकड़ा, घरवाले पहुंचे तो मांगी माफी

0
83
Loading...

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में एंटी रोमियो के नाम पर आम आदमी को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शोहदों को पकड़ने के बजाय पुलिस पति – पत्नी, प्रेमी – प्रेमिका को पकड़ रही है। हद तो तब हो गयी जब एंटी रोमियो वालों ने भाई बहन को ही पकड़ लिया और थाने मेज बैठा लिया।

एंटी रोमियो अभियान की आड़ में एंटी रोमियो टीम ज्यादती करने लगी है किसी को भी पकड़कर कोतवाली और थाने पहुंचा दिया जा रहा है। इसी तरह का एक मामला यूपी के देवरिया जिले से प्रकाश में आया है। जहाँ भाई और बहन को ही एंटी रोमियो टीम वाले कोतवाली उठा ले गए। अभिभावकों के पहुंचने पर कोतवाली पुलिस ने माफी मांग कर उन्हें छोड़ दिया।

सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर गठित एंटी रोमियो टीम ने शुक्रवार शाम को किसी काम से हनुमान चौराहे पर गए भाई-बहन को पकड़ लिया। दोनों ने अपने को भाई-बहन बताया, लेकिन टीम के सदस्य मानने को तैयार नहीं हुए। दोनों के लाख कहने के बावजूद टीम के सदस्य उन्हें कोतवाली ले गए। सूचना के बाद अभिभावक पहुंचे। उन्होंने बताया कि दोनों उनके बेटा और बेटी हैं।

इसके बाद कोतवाली पुलिस और एंटी रोमियो टीम के सदस्य बैकफुट पर आ गए। अभिभावकों से माफी मांगकर दोनों को छोड़ दिया गया। सीओ सिटी डॉ. अजय कुमार सिंह का कहना है कि एंटी रोमियो टीम के सदस्यों को हिदायत दी जाएगी कि वे पूरी निगरानी के बाद ही कार्रवाई करें।

Loading...