शरद यादव का नीतीश के खिलाफ आज शक्ति प्रदर्शन, कर सकते हैं बड़ा ऐलान, देखें कहां है कार्यक्रम !

0
108

नई दिल्ली, जनता दल (यूनाइटेड) के संस्थापक रहे शरद यादव की ओर से आज 17 अगस्त को आयोजित होने वाले कार्यक्रम “सांझा बिरासत बचाओ सम्मलेन” में कांग्रेस और वामपंथी समेत अन्य विपक्षी दलों के भी शामिल होने की संभावना है। शरद की ओर से यह आयोजन भारत की ‘ साझा संस्कृति’ को बचाने की अपील के साथ किया जा रहा है। इसे भाजपा के साथ नीतीश के गठजोड़ के खिलाफ शरद के शक्ति परीक्षण के तौर पर देखा जा रहा है।

पत्रकारों ने जब उनसे पूछा कि सम्मेलन में कौन-कौन आ सकते हैं तो उन्होंने कहा कि विपक्ष का शायद ही कोई ऐसा नेता होगा, जो इसमें नहीं आएगा। शरद यादव ने कहा कि पूर्व पीएम मनामोहन सिंह और कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी समेत करीब 17 दल कल आयोजित होने वाले सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।

शरद ने कहा कि मिलीजुली संस्कृति भारत की संविधान की आत्मा है। इसके साथ छेड़छाड़ की जा रही है। उन्होंने कहा, देश भर में इस तरह के आयोजन किए जाएंगे। उन्होंने बिहार में नीतीश कुमार से भाजपा के साथ गठजोड़ के सवाल पर कोई जवाब नहीं दिया।

उन्होंने कहा कि आयोजन का फैसला हफ्तों पहले उस दौरान लिया गया था, जब जनता दल यूनाइटेड विपक्षी दलों के अनौपचारिक गठबंधन में शामिल था। शरद ने कहा कि ‘सांझा विरासत बचाओ’ सम्मेलन किसी के खिलाफ नहीं बल्कि देश के हित में किया जा रहा है। यह देश के सवा सौ करोड़ लोगों के हित में आयोजित हो रहा है।

सम्भावना यह भी है कि आज शरद यादव की तरफ से जदयू को लेकर कोई बड़ा ऐलान भी किया जा सकता है। साथ ही कभी NDA के संयोजक रहे शरद यादव आज विपक्ष को भी मजबूती से जोड़ने के लिए UPA या कसी और अलायन्स की भो घोषण कर सकते हैं।

 

ये भी पढ़ें

शरद यादव ने ठुकराया रक्षा मंत्री और 50 करोड़ का ऑफर, कहा अब सांप्रदायिक ताकतों और BJP से रण होगा !

Loading...