भाजपा विधायक ने वन दारोगा का पैर तोड़ा, योगी के नेताओं की गुंडई से करहाने लगी यूपी की जनता !

0
41

 

बलिया : उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार और मुख्यमंत्री योगी के संरक्षण तले भाजपा विधयाकों की लगातार गुंडई और आतंक ने जनता के साथ सरकारी कर्मचारियों के बीच दहशत का माहौल बना हुआ है। हाल ही में मुरादाबाद में एक भाजपा नेता ने BDO के सर पर लोहे की रॉड मार दी जिससे उसका सर फट गया और तत्काल इलाज मिलने से उसकी जान बच गयी,इस हमले में उसके सर पर 18 टाँके आये थे । वहीँ अब यूपी के बलिया में गुरुवार की देर रात वन विभाग के कर्मचारियों पर अवैध वसूली का आरोप लगाकर बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह एवं उनके समर्थकों ने जमकर पीटा। इसके चलते वन दारोगा का बायां पैर फ्रैक्चर हो गया। वन दारोगा ने बताया कि बलिया से जिप्सी से आये वनकर्मियों व जिप्सी के ड्राइवर अनिल कुमार सिंह को भी विधायक समर्थकों ने पीटा।

घटना के बाद लोगों ने वन दरोगा को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़ित दारोगा ने कहा कि विधायक के साथ उनके समर्थकों ने मेरे ऊपर जानलेवा हमला किया जिसमे मेरा पैर टूट गया,मेरा कसूर सिर्फ इतना था कि अवैध बालू लिए जा रहे विधायक समर्थकों को मैंने चेकिंग के नाम पर रोक कर उनके ऊपर कार्यवाही करने की बात कही । इसपर उनमे से ही किसी ने विधायक को सूचना दे दी और विधायक अपने दर्जनों समर्थकों के साथ वहां आ गए और हमसे मार-पीट करने लगे।

घायल वनकर्मी बोले कि थाने में केस दर्ज नहीं होगा तो वह कोर्ट की शरण में जाएगा। वहीं, विधायक ने आरोप निराधार बताये। उन्होंने वन दारोगा और कर्मचारियों पर अवैध वसूली का आरोप लगाते हुए उनके निलंबन की मांग को लेकर वन विभाग कार्यालय पर धरना शुरू कर दिया है।

वहीँ विधायक ने उल्टा चेतावनी दी कि अगर वन दरोगा पर कार्रवाई नहीं हुई तो शनिवार से अनशन शुरू कर दिया जाएगा। पीड़ित वन दारोगा संतोष कुमार ने बताया कि वह अपने विभाग के चालक रघुपति राम के साथ चिरैया मोड़ के पास रात के करीब नौ बजे बैठे थे। तभी बैरिया विधायक अपने समर्थकों के साथ पहुंचे, जहां चालक से विधायक ने नाम पूछा और फिर जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए बदसलूकी की।

इसके बाद समर्थकों ने मारपीट की। मैंने विरोध किया तो विधायक ने अवैध वसूली का आरोप लगाते हुए मेरे साथ भी बदसलूकी की और समर्थकों व कार्यकर्ताओं के साथ पीटा। उधर, जिला मुख्यालय से जिप्सी से ड्यूटी पर आ रहे वनकर्मियों व चालक अनिल कुमार सिंह भी वहां पहुंचे तो विधायक समर्थकों ने उन्हें भी पीट कर वापस लौटा दिया।

संतोष ने बताया कि समर्थकों ने थाने पर तहरीर देने जाते समय भी रोका। जिसके बाद साथियों ने देर रात जिला अस्पताल पहुंचाया। वन दारोगा ने आरोप लगाया कि विधायक के संरक्षण में ही क्षेत्र में लाल बालू का खेल चलता है। उनके ही समर्थक व कार्यकर्ता बिहार से लाल बालू लाने का काम करते है।

आगे पढ़ें – अपनी गलती पर पर्दा डालने के लिए धरने पर बैठे बैरिया विधायक – सुरेंद्र सिंह !

Click on Next

Prev1 of 2

Loading...