योगीराज में बदमाश हुए बेखौफ – पीएम मोदी के क्षेत्र में अब तक की सबसे बड़ी डकैती, 25 मिनट में लूटे 10 करोड़ के जेवरात

0
78

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार और केंद्र में भी बीजेपी की सरकार इसके बावजूद अपराधों पर लगाम लगाने पर बीजेपी सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी अपराधियों के हौसले बुलंद है।

शनिवार 8 अप्रैल को पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में चौक थाना क्षेत्र के अंतर्गत ठठेरी बाजार मोड़ स्थित संजय अग्रवाल की सोने के आभूषण की दुकान में दिनदहाड़े छह बदमाश असलहे और चाकू के दम पर 25 मिनट के भीतर दस करोड़ रुपये मूल्य से अधिक के जेवरात लूट ले गए। भागते समय बदमाश संजय और उनके दो कर्मचारियों का मोबाइल छीन ले गए।

यही नहीं, दुकान के सीसीटीवी कैमरे और डीवीआर भी तोड़ डाले। चौक थाने से चंद कदम दूर की दूकान में हुई दिनदहाड़े डकैती से गुस्साए सराफा कारोबारियों ने दूकानें बंद कर दी और सड़क पर उतर आए। सभी चौक थाने के समीप सड़क जाम कर नारेबाजी करने लगे।

पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी और माल की बरामदगी का आश्वासन देकर कारोबारियों को शांत कराया। बताया जा रहा है कि शहर में इससे बड़ी डकैती की घटना अब तक नहीं हुई थी।

ठठेरी बाजार गली में संजय का चार मंजिला मकान है। जिसके प्रथम तल पर संजय की श्री सीताराम सर्राफ नाम से आभूषण की दूकान है जबकि उसके ऊपर परिवार रहता है। संजय के अनुसार 4:20 बजे के लगभग दो युवक आए और लॉकेट दिखाने की मांग किए। दोनों को दुकान का कर्मचारी छोटू लॉकेट दिखा रहा था जबकि एकाउंटेंट महेंद्र सिंह अपना काम कर रहे थे और संजय बैठे हुए थे।

इसी दौरान एक-एक कर चार और युवक दुकान में घुसे। उनमें से एक ने चेहरे पर गमछा बांध रखा था जबकि बाकी सभी का मुंह खुला हुआ था। बदमाशों में से एक ने संजय की कनपटी पर असलहा और गले पर चाकू सटा दिया जबकि एक अन्य असलहा और चाकू तान कर खड़ा हो गया। दोनों ने संजय को जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि आलमारी खुलवाओ।

इसके बाद दो बदमाश पिट्ठू बैग में सोने के जेवरात भरे। जेवरात लूटने के बाद बदमाशों ने संजय और उनके कर्मचारियों का मोबाइल छीना और दुकान में लगा सीसीटीवी कैमरा, उसका डीवीआर तोड़ डाला। लूटपाट करने के बाद एक बदमाश असलहा तान कर खड़ा हो गया और बाकी बारी-बारी से निकल गए।

जो बदमाश खड़ा था उसने धमकाया कि अगर शोर मचाए तो जिंदा नहीं बचोगे। जब बदमाशों के चले जाने का यकीन हो गया तो लगभग 4:40 बजे संजय और कर्मचारियोें ने शोर मचाया। शोर सुनकर आसपास के दुकानदार भाग कर आए और सूचना पुलिस को दी गई।

जानकारी मिलने पर आईजी जोन डॉ. एन रविंदर, प्रभारी एसएसपी आशीष तिवारी, एसपी सिटी राजेश यादव, क्राइम ब्रांच प्रभारी ओम नारायण सिंह, एसटीएफ के एसआई अमित श्रीवास्तव सहित पांच थानों की फोर्स और फोरेंसिक टीम पहुंची।

क्राइम ब्रांच की टीम ठठेरी बाजार गली और चौक-मैदागिन मार्ग की दूकानों के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज को जुटाने का काम शुरू कर दिया है। आईजी जोन डॉ. एन रविंदर ने बताया कि क्राइम ब्रांच और तीन थानों की टीम घटना के खुलासे के लिए लगाई गई है।

आरोपी पकड़े जाएंगे और लूटा हुआ जेवर बरामद किया जाएगा। उधर, सड़क जाम कर प्रदर्शन करने वाले व्यापारियों ने कहा कि 48 घंटे के भीतर घटना का खुलासा नहीं हुआ तो बड़े पैमाने पर आंदोलन कर बनारस बंद किया जाएगा।

Loading...