स्कूल टीचर को BJP नेता की धमकी, तुमको स्कूल में रहना है, और अगर जिंदा रहना है तो मेरी सुनना है !

0
8

 

शाहगंज(जौनपुर)। ‘परिचालक एवं अध्यापक को बोले तुमको स्कूल में रहना है, और अगर जिंदा रहना है। तो मेरी सुनना है।’ ये शब्द किसी गुंडे मवाली के नहीं,बल्कि भय और भ्रष्टाचारमुक्त शासन का वायदा करके प्रचंड बहुमत प्राप्त करने वाली भारतीय जनता पार्टी के नेता दयाशंकर सिंह एवं नरेंद्र सिंह के हैं।

जनता पूर्व माध्यमिक विद्यालय अर्गूपुरकला बीवीगंज में भाजपा नेता दयाशंकर सिंह,नरेंद्र सिंह शनिवार को तकरीबन 10:30 में असलहों से लैश अपने गुर्गों के साथ विधालय पहुंचे साथ में समरबहादुर सिंह,रानू सिंह,नरेंद्र सिंह फैजुल्लपुर,नरेंद्र सिंह,सुरेश सिंह, अखंड प्रताप सिंह,हिंद नारायण सिंह,दुर्गापाल समेत दर्जनों लोग स्कार्पियो यूपी 62 AU 1111 नंबर की गाड़ी व कई अन्य गाड़ियों से विद्यालय परिसर में पहुंचे। और आफिस रूप के बंगल के क्लास कक्षा 7 के सभी बच्चों को बाहर निकलने कहा।

स्कूल परिचालक अजय कुमार से बोले यहां कुर्सी लगाओ,और बोले आज से यह विद्यालय मेरा है, तुम लोगों को रहना है। तो मेरी हर एक बात सुनना है, अब भाजपा सरकार है बदलेगा यहाँ के नियम कानून सब मेरे हिसाब से होगा। जैसे ही खबर दो दिन के अवकाश पर होने के कारण विद्यालय के प्रधानाध्यापक अमित सिंह, लिपिक जय प्रकाश यादव को जानकारी मिली की तत्काल एक लड़के को बोले की उनकी करतूतों का वीडियो बना लो, और फोटो खींच लो, लड़का फोटो खींच ही रहा था की भाजपा नेता दयाशंकर सिंह ने कहा जीना है की नहीं। जिससे विद्यालय के समस्त स्टाप डर सहम गये। लेकिन किसी तरह साहस दिखाकर फोटो और वीडियो बनाया गया।

भय और भ्रष्टाचार से मुक्ति देने से संबंधित नारों वाली पार्टी के नेता अब पढ़ाई के मंदिर को भी नहीं बक्स रहे है। सरकार बनने के ग्यारह महीनें में यह कोई पहला मामला नहीं है,जब भाजपा पदाधिकारियों की गुंडई और दबंगई देखने को मिली हो।।

भय और भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने का वायदा करके सत्ता में आई भारतीय जनता पार्टी के मुखौटे का रंग-रोगन में ही उतरने लगा है।भाजपा के नेता आए दिन छोटी-छोटी बातों पर अहम की तुष्टि के लिए सरेआम सरेराह आम जनता को धमकाने लगे हैं।

जेपी यादव

Loading...