BJP को लगा बड़ा झटका सरकार होते हुए भी नहीं बचा पाई अपनी सीट, सपा – कांग्रेस ने चटाई धूल !

0
181

इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बने अभी 6 महीने भी नहीं हुए कि जनता और जन प्रतिनिधियों के सर से भाजपा की लोकप्रियता का खुमार छटने लगा है। पिछले दिनों इलाहाबाद और कौशाम्बी में हुए जिलापंचायत के उपचुनाव में भाजपा को बुरी हार का सामना करना पड़ा था।

तो अब भाजपा को एक और झटका लगा है। प्रतापगढ़ में भाजपा अपनी सीट भी नहीं बचा पाई। लालगंज विकासखंड सीट पर काबिज भाजपा समर्थित ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया। जिसमें तीन गुने से ज्यादा वोट अविश्वास के पक्ष में पड़े और भाजपा को अपनी ये सीट गंवानी पड़ी। जिसके चलते स्थानीय भाजपा इकाई में हड़कंप मच गया।

बता दें कि इस सीट पर बीजेपी समर्थित प्रत्याशी रमेश प्रताप सिंह अभी तक ब्लॉक प्रमुख थे लेकिन उनके खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव में सत्ता के विपरीत लहर देखने को मिली। मतदान में रमेश प्रताप सिंह को 16 वोट मिले। जबकि 53 वोट रमेश के विरोध में पड़े।

बता दें कि रमेश प्रताप सिंह के भाई नागेश पिछले विधानसभा चुनाव में रामपुर खास सीट से चुनाव लड़े थे लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी मोना मिश्रा के खिलाफ हर का मुंह देखना पड़ा था। अविश्वास प्रस्ताव के पीछे कांग्रेस की विधायक मोना मिश्रा और कांग्रेस के दिग्गज नेता प्रमोद तिवारी की ही रणनीति थी।

कांग्रेसियों ने इस जीत को लोकतंत्र की जीत बताया और भाजपा सरकार की नीतियों की हार बताया। भाजपा से सीट छीनने के बाद कांग्रेसियों ने मिठाई बांटी और पटाखे फोड़कर जीत का जश्न मनाया।

घंटों बिजली कटौती से जनता परेशान, बीजेपी विधायक बोला इससे अच्छी तो अखिलेश सरकार थी !

Loading...