टिकट वितरण से नाराज भाजपा सांसदों ने की बगावत, पार्टी छोड़ने और निर्दलीय लड़ने की दी धमकी !

0
1

गांधीनगर, गुजरात में विधानसभा चुनाव के लिए मक्तदान होने में कुछनदिनों का ही समय बचा है। कांग्रेस एयर भारतीय जनता पार्टी द्वारा पार्टी प्रत्याशियों की घोषणा कर दी गयी है। भाजपा ने अभी तक 106 प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की है जबकि कांग्रेस ने 77 प्रत्यशियों की लिस्ट जारी की है। टिकट वितरण के बाद से ही भाजपा में इस्तीफों को झड़ी लग गयी है। कई नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है और निर्दलीय ताल ठोकने के लिए तैयार हैं।

भाजपा के टिकट वितरण से कई वरिष्ठ भाजपा सांसद भी नाराज हो गए हैं। पार्टी के टिकट वितरण से नाराज वरिष्ठ लोकसभा सांसद लीलाधर वाघेला ने रविवार को चेतावनी दी कि अगर उनके बेटे को टिकट नहीं दिया गया तो वह पार्टी छोड़ देंगे। 82 वर्षीय वाघेला 2014 के लोकसभा चुनाव में विधायक रहते हुए गुजरात की पाटन लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी थे। जीतने के बाद उन्होंने अपनी विधानसभा सीट डीसा छोड़ दी थी। इस पर सितंबर 2014 में हुए उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी लेबाजी ठाकोर की कांग्रेस के गोवा रबारी के हाथों 10 हजार से अधिक मतों से हार हो गई थी।

वाघेला ने कहा कि उन्होंने डीसा से अपने बेटे दिलीप वाघेला के लिए टिकट मांगा है। उन्होंने वर्षों तक पार्टी की सेवा की है और बेटे को भी इसकी सेवा में लगाना चाहते हैं। अगर पार्टी उनकी सेवा की कद्र नहीं करती और उनके बेटे को टिकट नहीं देती तो वह पार्टी से त्यागपत्र दे देंगे। उधर सूत्रों ने बताया कि वाघेला ने अपने बेटे के लिए कांकरेज, दियोदर या डीसा में से कोई एक सीट मांगी थी। दो सीटों पर पहले ही दूसरे लोगों को टिकट दिया जा चुका है।

बाघेला के अलावा पंचमहाल लोकसभा सीट से भाजपा सांसद प्रभात सिंह चौहाण भी पार्टी आलाकमान से नाराज हो गए हैं। सांसद ने अपनी पत्नी को टिकट नहीं दिए जाने पर निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लडऩे का अल्टीमेटम भी दिया है।

भाजपा सांसद प्रभात सिंह चौहाण ने मध्य गुजरात की कालोल विधानसभा सीट पर अपनी पत्नी को टिकट नहीं दिए जाने के बाद रविवार को चेतावनी दी कि वह इस सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन करने के बारे में विचार कर रहे हैं।

इससे पहले भाजपा के वरिष्ठ विधायक, संसदीय सचिव तथा दलित नेता जेठा सोलंकी ने उन्हें टिकट नहीं मिलने की आशंका पर ही शनिवार को पार्टी और विधायक पद से त्यागपत्र दे दिया था।

Loading...