बाँलीवुड में शोक की लहर- 70 की उम्र में विनोद खन्ना का निधन,बाहुबली-2 के निर्माता ने फिल्म की रिलीज रोकी!

0
96

मुम्बई : एक्टर विनोद खन्ना का लंबी बीमारी के बाद मुंबई में 70 साल की उम्र में निधन हो गया है। विनोद खन्ना गुरदासपुर से बीजेपी के सांसद भी थे। खबरों की मानें तो उन्हें कैंसर की बीमारी थी।

कुछ दिन पहले विनोद खन्ना की अस्पताल में इलाज के दौरान की एक फोटो खूब वायरल हुई थी। इस तस्वीर में विनोद खन्ना काफी कमजोर और बीमार नजर आ रहे थे। लोग उनकी ये तस्वीर देखकर हैरत में पड़ गए थे।

विनोद खन्ना काफी समय से सर एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। विनोद खन्ना अपनी बेटी कविता खन्ना, बेटे राहुल, अक्षय और साक्षी के साथ मुंबई में रहते थे।

विनोद खन्ना 70 के दशक के फेमस एक्टर्स में से एक थे। उन्होंने हीरो से पहले विलेन के रोल भी किए थे। 1968 में फिल्म ‘मन का मीत’ में काम करने के बाद उन्हें पहचान मिलना शुरू हुई थी।

इसके बाद विनोद खन्ना ने ‘मेरा गांव मेरा देश’, ‘इम्तिहान’, ‘इनकार’, ‘अमर अकबर एंथनी’, ‘लहू के दो रंग’, ‘कुर्बानी’, ‘दयावान’ और ‘जुर्म’ जैसी फिल्मों में यादगार अभिनय किया। वो आखिरी बार 2015 में शाहरुख खान की फिल्म ‘दिलवाले’ में नजर आए थे।

अमिताभ बच्चन ‘सरकार 3’ के प्रमोशन के ‌ल‌िए एक इंटरव्यू दे रहे थे। जैसे ही उन्हें पता चला कि विनोद खन्ना का निधन हो गया है। उन्होंने अपना ‌इंटरव्यू बीच में ही छोड़ दिया और उनके परिवार से मिलने हॉस्पिटल पहुंच गए।

माधुरी दीक्षित भी विनोद खन्ना के नशे में बहक गईं थी !

बात उस दौर की है जब विनोद खन्ना दोबारा फिल्मों में लौटकर आए थे और लौटकर उन्होंने रोमांटिक रोल प्ले करने शुरु किए। उस वक्त फिरोज खान एक फिल्म बना रहे थे ‘दयावान’।

कुर्बानी फिल्म करते हुए फिरोज औऱ विनोद में दोस्ताना हो गया था औऱ जब विनोद लौटे तो फिरोज ने उनको दयावान का लीड रोल ऑफर कर दिया। फिरोज जानते थे कि विनोद से बेहतर वो रोल कोई निभा ही नहीं सकता।

विनोद ने भी हां कर दी। फिल्म के लिए उस वक्त पॉपुलर हीरोइनें न मिली क्योंकि फिल्म में हीरोइन का किरदार छोटा और वेश्या का था फिरोज ने माधुरी से संपर्क किया जो उस वक्त संघर्ष कर रही थी। माधुरी ने झट से हां कर दी, हालांकि उनके भीतर एक मलाल था कि हीरो उम्र में उनसे काफी बड़ा था…लेकिन माधुरी विनोद खन्ना के स्टारडम और सम्मोहन के आगे इस कदर बेबस थी कि उन्होंने भी हां कर दी।
तो कुल मिलाकर फिरोज को विनोद और माधुरी के रूप में फिल्म के हीरो हीरोइन मिल चुके थे। लेकिन असली समस्या तो आगे आने वाली थी

फिरोज खान ने फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी। फिल्म में विनोद खन्ना और माधुरी के बीच एक लिप लॉक और इंटीमेट सीन फिल्माया जाना था। सभी को लगा कि माधुरी इसके लिए राजी नहीं होंगी। लेकिन माधुरी ने इस सीन को बिना हिचकिचाहट के शूट कर सभी को आश्चर्य में डाल दिया। फिरोज भी माधुरी के बेबाक रवैये से चौंक उठे थे। बहरहाल शूट की तैयारी की गई और माधुरी और विनोद तैयार हो गए।
गीले बदन कम कपड़ों में दो सितारों पर शूट किया जा रहा था और दर्जनों लोग देख रहे थे। तब ये कुछ अचंभा सा लग रहा था कि विनोद इतनी छोटी सी हीरोइन के साथ लिप लॉक दे रहे हैं।

Loading...