योगीराज में अपराधियों का आतंक, कानपुर के पॉश इलाके में दिनदहाड़े घर में घुसकर महिला की हत्या !

0
579

कानपुर, उत्तर प्रदेश में गाँवों से लेकर शहर तक सभी जगह कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है,आज प्रदेश में चारों तरफ सिर्फ लूट,बलात्कार और हत्याओं का खौफनाक दौर जारी है। कल दोपहर 2 बजे के बाद कानपुर के कोहना इलाके में एक बिसनेस मैन की पत्नी की घर में दिनदहाड़े घुसकर हत्या कर दी गई। घर के ड्राइंग रूम में महिला की बॉडी खून से लथपथ मिली। बुधवार को जेपी श्रीवास्तव कंपाउंड जैसे पॉश इलाके में दिनदहाड़े घर में घुसकर शेयर ब्रोकर व मोबाइल डिस्ट्रीब्यूटर की पत्नी की धारदार हथियार से किसी ने हत्या कर दी। वारदात का पता चलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। शाम को उसकी शिक्षिका बेटी स्कूल से घर पहुंची तो उनका खून से लथपथ शव डाइनिंग टेबल के पास पड़ा था, यह देखकर बेटी की चीख निकल गई।

हाई प्रोफाइल मर्डर केस में SSP ने खुद मौके पर जाकर फोरेंसिक और डॉग स्क्वायड टीम के साथ जांच की। उनको मौके से घर में प्रयोग होने वाला खून से सना एक चाकू मिला है। आईजी और एडीजी जोन भी मौके पर पहुंच गए। एसएसपी के मुताबिक बेडरूम में सामान बिखरा पड़ा था। प्रथम दृष्टया उनकी लूट के इरादे से हत्या मानी जा रही है।

रानीघाट के जेपी श्रीवास्तव कंपाउंड निवासी अरुण केजरीवाल शेयर ब्रोकर व मोबाइल डिस्ट्रीब्यूटर है। परिवार में पत्नी निशा (52), बेटा कृष्णा उर्फ तनु और दो बेटियां सोनम व सोनाली थे। बुधवार सुबह कृष्णा पिता के साथ अ़ॉफिस चला गया था। बेटियां भी नौकरी करने से ऑफिस गई हुई थी। घर में निशा और नौकरानी शांति थी।

दोपहर में करीब दो बजे नौकरानी शांति घर से चली गई। शाम को करीब पांच बजे जब निशा की छोटी बेटी घर पहुंची तो उनके बंगले के गेट खुले थे। वह अंदर गई तो डाइनिंग टेबिल के पास निशा की खून से सनी लाश पड़ी थी,जिसे देख सोनाली चीख पड़ी। उसकी आवाज सुनकर पड़ोसी मौके पर पहुंच गए। लाश के बगल में थाली, कटोरी, तकिया और फ्लावर पाट पड़ा था।

सोनाली ने अपने पापा अरुण और यूपी 100 में जानकारी दी, लेकिन पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। सोनाली को पुलिस बुलाने के लिए खुद जाना पड़ा। आनन फानन में इंस्पेक्टर फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। उनके पीछे सीओ, एसपी वेस्ट, एसएसपी, आईजी और एडीजी भी वहां पहुंच गए। विधायक निलिमा कटियार और उनकी मां पूर्व विधायक प्रेमलता कटियार भी वहां पहुंच गई। SSP करीब तीन घंटे पड़ताल के बाद वहां से बाहर आई। उनका कहना है कि धारदार हथियार से हत्या की गई है। बेडरूम में सामान बिखरा है, लेकिन यह वारदात लूट के इरादे से की गई या किसी अन्य कारण से। यह अभी साफ नहीं है। वारदात के पीछे करीबी का हाथ माना जा रहा है।

अरुण के पिता आत्माराम केजरीवाल बड़े शेयर ब्रोकर थे। अरुण का बेटा उनके साथ काम संभालता है। अरुण की बड़ी बेटी सोनम इंडियन आयल लखनऊ में है। छोटी बेटी सोनाली कंगारू किड्स स्कूल में शिक्षिका है। अरुण की पत्नी निशा घर संभालती थी। वहीँ इस हत्या से लोगों में डर का माहौल व्याप्त है और लोगों का कहना है कि अपराधी इतने निरंकुश हो गए है कि जब चाहे किसी का भी मर्डर कर दे रहे हैं। लोगों का कहना है कि हमे पुलिस का अब कोई भी भरोसा नहीं है और हमे अपनी सुरक्षा स्वयं ही करनी होगी क्योंकि पूरे प्रदेश में जगह-जगह तो खुद पुलिस वालों की ही सरेआम हत्याएं हो रही हैं,जिसमे से किसी भी हत्या का अब तक खुलासा नहीं हो पाया है।

Loading...