योगी के एंटी रोमियो अभियान की खुली पोल, फर्रुखाबाद में शोहदे ने पहले की छेड़छाड़ फिर जला डाला

0
108

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद से ही यूपी की कानून व्यवस्था चरमरा गयी है। अपराधियों के हौसले इतने बढ़ गए कि उनके अंदर पुलिस का खौफ खत्म हो गया है। रोज हत्या और बलात्कार की ख़बरें ही सुनाई दे रही हैं। एक तरफ तो योगी सरकार रोमियो रोमियो खेल रही है और मीडिया योगी की वाह वाही में जुटी है।

तो दूसरी तरफ पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल व्याप्त है। फर्रुखाबाद जिले में बुधवार की रात एक सनसनीखेज वारदात हुई जिसने योगी सरकार के दावों की पोल खोल कर रख दी। कमालगंज इलाके में घर की छत पर अपनी बहन के साथ सो रही लड़की से छेड़छाड़ के बाद पड़ोसी शोहदे ने उसे पेट्रोल डालकर जला दिया। लड़की को आग से झुलसता देख लड़का जोर-जोर से हंसने लगा और मौके से भाग निकला। डॉक्टरों ने लड़की की हालत बेहद नाजुक बताई है।

फर्रुखाबाद जिले के कमालगंज इलाके के शेखपुर मोहल्ला निवासी जुबेर अहमद की बेटी तबस्सुम (18) अपनी बहन शाहीन के साथ छत पर सो रही थी। बुधवार रात करीब 12 बजे पड़ोसी लफंगा इन्तखाब आया और पेट्रोल डालकर उसे जला दिया। बहन शाहीन का कहना है कि इन्तखाब उससे छेड़छाड़ करता था जिससे घरवाले बहुत परेशान थे। हाल ही में तबस्सुम का निकाह फर्रुखाबाद में ही तय हो गया था।

इसी बात से नाराज एक तरफा प्यार में पागल इन्तखाब रात को घर की छत फांद कर आ गया और छेड़छाड़ करने के बाद उसे आग के हवाले कर दिया। तबस्सुम का इलाज सैफई के एक हॉस्पिटल में चल रहा है। उसका शरीर 70 फीसदी से ज्यादा जल चुका है। डॉक्टरों ने बचने की उम्मीद कम ही बताई है।

शेखपुर रुस्तमपुर गांव निवासी जुबैर खां का परिवार मेहनत मजदूरी करके पेट पालता है। जुबैर के परिवार में तीन बेटी तबस्सुम, शाहीन व शब्बो और तीन पुत्र इरफान, इमरान, फरमान हैं। सबसे बड़ी बेटी शब्बो की शादी हो चुकी है, जबकि तबस्सुम दूसरे नंबर की बेटी है। पिता की मदद में बेटा इरफान भी मजदूरी करता है।

जुबैर ने बताया मोहल्ले का दबंग युवक इंतखाब आए दिन उसकी बेटी को परेशान करता है। बुधवार की रात बेटी तबस्सुम (18) अपनी छोटी बहन शाहीन के साथ छत पर सो रही थी। रात करीब 11:30 बजे पड़ोस में रहने वाला दबंग युवक इंतखाब छत पर चढ़ आया। उसने तबस्सुम पर शादी करने का दबाव डाला। विरोध करने पर उसके ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। एकाएक आग लगने से बेहाल तबस्सुम बचने के लिए भागी तो छत के जीने से नीचे गिर पड़ी। चीखपुकार सुनकर परिवार के लोग जागे और आग बुझाई।

इस बीच इंतखाब जान से मार डालने की धमकी देते हुए भाग निकला। सूचना पुलिस को दी गई तो थानेदार रजनीश चौहान फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। एंबुलेंस से घायल तबस्सुम को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। हालत गंभीर होने पर उसे लोहिया रेफर कर दिया गया। यहां से भी उसे सैफई रेफर कर दिया गया।

तहसीलदार सदर अशोक चौधरी ने लोहिया अस्पताल पहुंचकर पीड़िता के कलमबंद बयान दर्ज किए। थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपी के भाई आफताब व मामा अकबर अली को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। डॉक्टर ने इलाज के दौरान मिट्टी के तेल से आग लगने की बात बताई है। दबंग युवक को पकड़ने के लिए दबिश दी गई पर वह नहीं मिला।