योगीराज में अपराधियों के हौसले बुलंद – IAS के इंटरव्यू में शामिल होने से रोकने के लिए दलित छात्र पर जानलेवा हमला

0
92

लखनऊ, उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है अपराधियों के हौसले इतने बुलंद ही गये है कि आम आदमी तो आम आदमी पुलिस भी सुरक्षित नहीं है। दबंगई करने वालों के हौसले इतने बढ़ गए है कि इन्होंने लोगों का जीना दूभर कर रखा है। खबर आ रही है कि दबंगों ने दलित युवक की पिटाई कर दी वजह यह कि छात्र आईएएस का इंटरव्यू न दे पाए।

बलरामपुर में एक दलित छात्र को इसलिए पीट दिया गया ताकि वो आईएएस के इंटरव्यू में शामिल होने से वंचित हो जाये। रिपोर्टस के मुताबिक अज्ञात हमलावरों ने दलित युवक को लाठी-डंडे से बुरी तरह पीटा। छात्र पर चाकू से हमले के बाद उसकी आंख और मुंह में रेत भर दी गई। वारदात के बाद छात्र को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से इलाज के बाद उसके परिजन उसे इंटरव्यू दिलाने के लिए दिल्ली लेकर रवाना हो गए।

घटना शनिवार देर रात गैसड़ी कोतवाली के मनकापुर गांव में हुई। मनकापुर निवासी महेश कुमार भारती (22 वर्ष) पुत्र गंगा शरन बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में एमए (भूगोल) प्रथम वर्ष का छात्र है। उसने वर्ष 2016 की आईएएस मेन्स परीक्षा उत्तीर्ण की है। महेश का इंटरव्यू 10 अप्रैल को दिल्ली में होना है।

रिपोर्टस के अनुसार, युवक शुक्रवार को वाराणसी से मनकापुर गांव अपने घर आया था। वह शनिवार रात करीब नौ बजे गांव के बाहर शौच के लिए जा रहा था। महेश के मुताबिक तभी दो बाइक पर सवार होकर आए छह लोगों ने उसे डंडे से पीटना शुरू कर दिया। वे पहले से ही वहां घात लगा कर बैठे थे। एक हमलावर ने उस पर चाकू से हमला किया। हमलावरों ने उसके मुंह व आंख में रेत भर दी। उसका गला भी दबाया। तभी किसी बाइक सवार राहगीर के आने पर हमलावर भाग निकले।

उसने घर आकर मामले की जानकारी दी। महेश के बाएं हाथ व सीने में कटे का निशान है। शरीर के अन्य हिस्सों में भी चोटें आई हैं। वह हमलावरों को पहचानता नहीं है। परिजन देर रात उसे लेकर कोतवाली गए। वहां से उसे इलाज के लिए बलरामपुर के मेमोरियल चिकित्सालय ले जाया गया। जहां रात भर उसका इलाज चलता रहा। सुबह उसकी हालत सुधरी। मुंह में रेत भर दिए जाने के कारण वह ठीक से बोल नहीं पा रहा है।

महेश के बड़े भाई बिन्देश्वरी भारती ने बताया कि उनके परिवार की किसी से रंजिश नहीं है। यह काम ऐसे लोगों का है जो मेरे भाई को आईएएस बनता नहीं देखना चाहते। ऐसे ही लोगों ने उसे इंटरव्यू में जाने से रोकने के लिए हमला किया है।

गैसड़ी के प्रभारी निरीक्षक सम्पूर्णानंद तिवारी ने घटनास्थल का जायजा लिया है। उन्होंने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। पीड़ित से मिल कर उसका बयान दर्ज कर लिया गया है। उन्होंन कहा कि तहरीर मिलने पर केस दर्ज होगा।

Loading...