यूपी में रामराज चिचिया रहा है – बीजेपी विधायक के गुर्गों ने दलितों को दौड़ा दौड़ाकर पीटा – देखें वीडियो

0
47
Loading...

लखनऊ, उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के आने के बाद से भगवाधारी लोगों का आतंक बढ़ गया है। बीजेपी और उससे जुड़े संगठन गुंडई पर उतारू हैं कभी किसी को लव जेहाद के नाम पर मौत के घाट उतार दिया जाता है तो कभी गाय ले जा रहे गौ पालकों को पीटा जा रहा है प्रदेश में अराजकता अपनी चरम सीमा पर है। यही नहीं दलितों पर अत्याचार के मामले भी बहते जा रहे हैं। हाल के दिनों में दलितों के ऊपर घटी घटनाएं इसका जीता जागता उदहारण है। सहारनपुर में दलितों की बस्ती फंक दी गई, बलिया में दलितों की बस्ती में तोड़फोड़ की गई।

दलितों पर अत्याचार का एक और मामला सामने आया है। यह घटना प्रतापगढ़​ जिले के रानीगंज थाना क्षेत्र के मऊ गाँव में घटी है जहाँ विधायक धीरज ओझा के समर्थकों ने दलित परिवार ​के युवक विकास और उसके साथियों को मामूली कहा सुनी के बाद दौड़ा दौड़कर पीटा है।

पुलिस ने भी नहीं सुनी दलितों की फरियाद

मारपीट में गंभीर रूप से घायल युवक विकास कुमार की हालत जहाँ गंभीर बनी हुयी है वही आरोपियों के खिलाफ नामजद तहरीर देने के बावजूद पुलिस विधायक के दबाव में कोई भी कार्यवाई नहीं कर रही है। पीड़ित जिला अस्पताल में भर्ती है।

मीडिया द्वारा पूछताछ के दौरान उसने बताया कि स्थानीय ग्राम प्रधान और उसके साथी वर्तमान विधायक धीरज ओझा के आदमी है इसलिए पुलिस मामले की लीपा-पोती में जुटी है। इस सम्बन्ध में जब विधायक धीरज ओझा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि आरोप तो कोई भी किसी पर लगा सकता है। उन्होंने कहा कि मैं क्षेत्र में नहीं लखनऊ में था, यह मामला हमारे संज्ञान में आएगा तो हम कुछ कहेंगे।

पीड़ित विकास ने बताया कि विधायक के लोगों ने दलित बस्ती का रास्ता रोक रखा था लेकिन जब हमने विरोध किया तो यह हो गया विकास का कहना था कि हम थाने में कई बार गए तो कोई सुनवाई नहीं हुई उसके बाद हमें मजबूरन एसपी प्रतापगढ़ से मिलने जाना पड़ा जब हम उनसे मिलकर लौट रहे थे तो विधायक के लोगों ने लाठी डंडे के साथ दौड़ा लिया हम पांच छः लोग थे सभी को चोटें आई हैं।