वरिष्ठ सपा नेता को जान से मारने की धमकी, ये है योगी का रामराज !

0
54

मिर्जापुर, उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था को बेहतर करने का दावा लगातार योगी सरकार द्वारा किया जा रहा है मगर हकीकत यह है कि कानून व्यवस्था दिन पर दिन बदहाल होती जा रही है। आए दिन हो रहे अपराध इसकी चीख चीखकर दुहाई दे रहे हैं। हत्या बलात्कार लूट डकैती थमने का नाम नहीं ले रहे हैं पिछले 8 महीने में अपराध के मामले में यूपी नंबर 1 बनने की ओर अग्रसर है।

योगी सरकार के बेहतर कानून व्यवस्था की पोल खोलती हुई ये खबर बताएगी कि किस तरह यहां की जनता सुरक्षित है। आम जनता की बात तो बर्फ में करते हैं यूपी में इन दिनों नेताओं की जान पर बन आई है। जिन जनप्रतिनिधियों को जनता चुनती है ताकि वो उनकी जान माल की सुरक्षा के लिए पुलिस और प्रशासन तक उनकी बात पहुंचाएगा वो आज खुद ही अपनी जान बचाने के लिए गुहार लगा रहा है।

समाजवादी पार्टी के जिला सचिव और राष्ट्रीय पंचायती राज संगठन विंध्याचल मंडल के पूर्व अध्यक्ष रविप्रकाश तिवारी को जान से मारने की धमकी मिली है। सपा नेता ने थाने में तहरीर देकर मामले में कार्रवाई की मांग की है।

राष्ट्रीय पंचायती राज संगठन विंध्याचल मंडल के पूर्व अध्यक्ष रविप्रकाश तिवारी को पिछले कुछ दिनों से फोन कर अपशब्द कहते हुए जान से मारने की धमकी दी जा रही है। एक माह में लगातार तीन बार धमकी मिलने से परिवार के लोग काफी डरे हुए हैं। जिससे सपा नेता ने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

बतादें कि रविप्रकाश तिवारी बहुआर गांव की ग्राम प्रधान सरिता तिवारी के पति और सपा नेता हैं। उनके अनुसार कोई व्यक्ति बार बार जान से मारने की धमकी देता रहता है। आरोपी जान से मारने की धमकी देने के बाद मोबाइल बंद कर देता है।

इस मामले में थानाध्यक्ष बृजमोहन सरोज ने बताया कि पूर्व प्रधान द्वारा तहरीर देने के बाद मामले की जांच की जा रही है। उधर ग्राम प्रधानों का एक प्रतिनिधिमंडल थानाध्यक्ष से मिल मिलकर पूर्व प्रधान एवं सपा नेता रविप्रकाश तिवारी को धमकी देने वाले आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की। प्रतिनिधिमंडल में लोरिक यादव, नरसिंह चौहान, पुनीत चौबे, राजबहादुर सिंह, राजन राजपूत, सरिता तिवारी, सोना यादव, ओमकार यादव, आदि प्रधान शामिल रहे।

Loading...