नीतीश को सीएम पद से बर्खास्त करने की मांग, चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया जवाब !

0
28

 

नई दिल्ली, चुनावी हलफनामे में गलत जानकारी देने का आरोप लगाते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बर्खास्त करने की याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाख़िल की गई थी। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में चुनाव आयोग से 4 हफ्ते में जवाब दाखिल करने को कहा था। नीतीश कुमार को बिहार के मुख्यमंत्री पद के लिए अयोग्य घोषित करने को लेकर दायर याचिका के संबंध में चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में अपना जवाब दाखिल किया है।

याचिका में नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री के पद से हटाए जाने की मांग की गई थी। इस मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से याचिकाकर्ता द्वारा दायर किए गए हलफनामें की सत्यता की जांच करते हुए चार हफ्ते में जवाब देने को कहा था।

इस मामले में चुनाव आयोग ने हलफामा दायर करते हुए कहा है की ये याचिका सुनवाई योग्य नहीं और यह याचिका गकत तथ्यों पर आधारित है। इसमें दी गई जानकारी गुमराह करने वाली है और ये अदालती प्रक्रिया का दुरुपयोग है। चुनाव आयोग के अनुसार नीतिश कुमार ने 2012 और 2015 में बिहार विधानसभा का चुनाव नहीं लडा था।

चुनाव आयोग ने कहा कि नीतीश कुमार ने 2013 में भी बिहार विधान परिषद MLC का चुनाव नहीं लडा। चुनाव आयोग ने अपने जवाब में कहा है कि हमें पता नहीं याचिकाकर्ता एम एल शर्मा ने नीतीश कुमार का चुनावी हलफनामा कहां से हासिल किया है। इस मामले से याचिकाकर्ता के किसी भी मौलिक अधिकारों का हनन नहीं हुआ है।

चुनाव आयोग के अनुसार अगर ऐसा कुछ था तो याचिकाकर्ता को चुनाव आयोग को याचिका या पुलिस को शिकायत देनी चाहिए थी। आयोग ने सुप्रीम कोर्ट से इस याचिका को खारिज करने और याचिकाकर्ता पर भारी जुर्माना लगाने की मांग भी की है। इस मामले में अगली सुनवाई 19 मार्च को होनी है।

Loading...