अजमेर की प्रसिद्ध दरगाह में हुआ खूनी संघर्ष,दो गुटों में खूब चले चाक़ू !

0
95

अजमेर, विश्व को अमन और चैन का पैगाम देने वाली प्रसिद्ध सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में सोमवार को खादिमों में चाकू चल गए। आपसी रंजिश के चलते हुए झगड़े में एक खादिम गंभीर रुप से घायल भी हो गया। ख्वाजा गरीब नवाज की दरगाह में जहां हर कोई अमन – चैन मांगने आता है और उनकी दुआ वहां मौजूद खादिम करवाते हैं, उन्हीं में से कुछ खादिमों ने दरगाह परिसर में जोएब चिश्ती नामक खादिम पर चाकूओं से ताबड़तोड़ वार कर दिए। इससे जोएब गंभीर रूप से लहुलूहान हो गया।

घायल जोएब चिश्ती को JLN अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसका इलाज जारी है। दरगाह वृताधिकारी ओमप्रकाश मीणा ने पीड़ित जोएब के बयान दर्ज कर आरोपित अली अहमद, बख्तियार अहमद, सैयद नावेद चिश्ती, मौहम्मद हुसैन सहित अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

थाना पुलिस के अनुसार घायल जोएब चिश्ती ने ताजिया शरीफ निकलने के दौरान आरोपितों पर चाकू से वार किया था। इसका दरगाह थाने में 224-16 मुकदमा भी दर्ज है। इस रंजिश के चलते जोएब को सबक सिखाने के लिए सोमवार को आरोपितों ने उस पर चाकूओं से वार किए। उधर, दरगाह परिसर में हुए इस घटनाक्रम से वहां पहुंचे जायरीन भी सकते में हैं।

Loading...