वीडियो में देखें – यूपी में भयंकर गुंडाराज – गोरखपुर सर्राफा व्यापारी को कार में बांधकर जिन्दा फूंका

0
66
Loading...

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में अट्टा परिवर्तन के बाद से अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए है कि उनके अंदर से कानून और पुलिस का डर खत्म हो गया है। अपराधी इतने बेलगाम हो गए हैं किdin दहाड़े कभी पुलिस वाले को गोलियों से भून रहे हैं तो कभी आम जनता को अपना शिकार बना रहे है। इतना ही नही प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र का भी बुरा हाल है जहाँ शनिवार को वाराणसी शहर के इतिहास की सबसे बड़ी डकैती हो गई।

उत्तर प्रदेश में व्याप्त गुंडाराज की ताजा खबर सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर से है जहाँ दिन दहाड़े एक युवक की कार में जिंदा जलाकर ह्त्या कर दी गई। रविवार को दोपहर बाद सहजनवा फोरलेन पर तेनुआ टोल प्लाजा के पास एक लग्जरी कार में अज्ञात लोगों ने सर्राफा व्यवसाई का हाथ-पैर बांधकर उसे जिंदा फूंक दिया।

सड़क किनारे खड़ी कार से आग की लपटें उठती देख लोग वहां पहुंचे तो उसमें युवक के बंधे होने का पता चला। जब तक फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंचती, सर्राफा व्यवसाई जलकर राख हो चुका था। पुलिस ने गाडी के नंबर के आधार पर छानबीन की तो उसकी पहचान गोरखपुर के घंटाघर के सर्राफा व्यवसाई नितिन अग्रवाल के रूप में हुई। वह घर से पैसे की वसूली के लिए निकला था।

फोरलेन पर कार में किसी युवक को जिंदा फूंकने की खबर जैसे ही फैली, वहां लोगों की भीड़ जुट गई। इस बीच डीआईजी, एसपी ग्रामीण समेत फोरेंसिक टीम के सदस्य भी पहुंच गए। उन्होंने मामले की छानबीन शुरू कर दी। इसके बाद मृतक की पहचान हुई। उसे क्यों फूंका गया है इसका अभी पता नहीं चल पा रहा है। एसपी ग्रामीण का कहना है कि पोस्टमार्टम या जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा कि युवक को जिंदा फूंका गया है या कार में आग लगी है।

सर्राफा व्यवसाई को जिस कार में बांधकर फूंका गया वह नीले रंग की मारूति बलेनो कार (नंबर यूपी 53 सीजे 9938) है। गाड़ी के नंबर के आधार पर जानकारी की गई तो नितिन घंटाघर हरबंश गली के रहने वाले व्यवसाई गोविंद अग्रवाल का इकलौता पुत्र निकला। इसके बाद परिवारीजनों को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही घर के लोग मौके पर पहुंच गए। उन्होंने जताई हत्या की आशंका जताई है।