MP – समझौता न करने पर आरोपी ने rape पीड़िता की हंसिये से उंगलियां काटीं

0
63

मध्य प्रदेश/भोपाल, टीकमगढ़ जिले में रेप पीड़िता पर समझौता का दबाव बनाते हुए आरोपी ने हंसिये से उसकी दो उंगलियां काट दीं। आरोपी और उसके साथियों ने पीड़िता का किडनैप करने की कोशिश भी की।

इस घटना के बाद आरोपी ने खुद को गोली मारकर मामूली तौर पर घायल कर लिया। आरोपी 3 महीने पहले ही जमानत पर छूटा है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। DNA टेस्ट में भी साबित हुआ था आरोप…

मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में rape पीड़िता पर समझौते का दबाव बनाने में असफल आरोपी ने हंसिये से उसके सीधे हाथ की दो उंगलियां काट दीं।

घटना के बाद आरोपी ने खुद को गोली मारकर मामूली रूप से घायल कर लिया और झांसी(यूपी) के अस्पताल में जाकर भर्ती हो गया, ताकि काउंटर केस बन सके। पीड़िता सोमवार को अपनी जान की सलामती की गुहार लेकर SP से मिलने टीकमगढ़ पहुंची।

टीकमगढ़ से करीब 60 किलोमीटर दूर स्थित जेरोन थाने के गांव लोहरगवां में रविवार सुबह करीब 11 बजे पीड़िता अपने खेत पर चारा काट रही थी। उसका पति कटा हुआ चारा रखने घर गया था। इसी बीच आरोपी कुंवरलाल अपने साथी महेंद्र और वृगभान के साथ वहां आ धमका। वह पीड़िता से रेप के मामले में समझौते का दवाब बनाने लगा।

उल्लेखनीय है कि कुंवरलाल ने 5 अक्टूबर, 2014 को पीड़िता के घर में घुसकर रेप किया था। यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है। बहरहाल, पीड़िता ने समझौते से इनकार किया, तो आरोपियों ने उसे अगवा करने की कोशिश की।

महिला के विरोध करने पर आरोपियों ने वहां पड़ा हंसिया उठाकर हमला कर दिया। इससे पीड़िता की सीधे हाथ की दो उंगलियां कट गईं। आरोपियों ने लाठी से भी पीड़िता पर हमला किया, जिससे उसके हाथ में फ्रैक्चर हो गया। बाद में महिला के चीखने-चिल्लाने पर आरोपी भाग निकले। पीड़िता अपने पति के साथ थाने पहुंची।

रात करीब 11 बजे महिला का पृथ्वीपुर अस्पताल में मेडिकल हुआ। सोमवार को पीड़िता पति के साथ टीकमगढ़ पहुंची और SP से अपनी जान की सलामती की गुहार लगाई।

कुंवरलाल ने घटना के बाद खुद को गोली मारकर मामूली तौर पर घायल कर लिया। इसके बाद वो झांसी(यूपी) जाकर अस्पताल में भर्ती हो गया, ताकि काउंटर केस दर्ज हो सके। रेप के बाद आरोपी करीब एक साल तक फरार रहा था। बाद में उसकी गिरफ्तारी हुई। कुछ समय पहले ही वह जमानत पर जेल से बाहर आया था। DNA टेस्ट से भी रेप की पुष्टि हो चुकी थी।

Loading...