अमित शाह के बेटे की संपत्ति में 16000% का इजाफा, शाह परिवार के अच्छे दिन आ गए !

0
91

नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद, अमित शाह के बेटे की कंपनी के टर्नओवर में 16000 गुना बढ़ोतरी !

Loading...

दिल्ली : देश में यूँ तो CBI,ED और IT जैसी अच्छी जांच एजेंसियां हैं,पर पिछले कुछ समय से ये सारी ही जांच एजेंसियां केंद्र सरकार के इशारों पर नाचने वाली एजेंसियां बन कर रह गयी हैं। बता दें कि वैसे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी अपने को देश का चौकीदार बता चुके हैं और यह भी कहते रहे हैं कि “ना खाऊंगा ना खाने दूंगा” लेकिन अपने खास मित्र एवं सहयोगी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के मामले में इनका ईमान डोल गया और अमित शाह के बेटे जय शाह ने साहब की कृपा से अपनी कंपनी को कुछ ही सालों में करोड़ों के मुनाफे के साथ 16000 गुना की अप्रत्याशित बढ़ोतरी करा दी।

नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने और अमित शाह के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते ही उनके बेटे जय अमितभाई शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड का टर्नओवर 16 हजार गुना बढ़ गया है। ‘द वायर’ के मुताबिक रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) से प्राप्त दस्तावेजों के अनुसार जय की कंपनी की बैलेंस शीट में बताया गया है कि मार्च 2013 और मार्च 2014 तक उनकी कंपनी में कुछ खास कामकाज नहीं हुए और इस दौरान कंपनी को क्रमश: कुल 6,230 रुपये और 1,724 रुपये का घाटा हुआ। लेकिन जैसे ही केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनी और उनके पिता भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने जय शाह की कंपनी के टर्नओवर में आश्चर्यजनक रूप से इजाफा हुआ है। साल 2014-15 के दौरान उनकी कंपनी को कुल 50,000 रुपये की इनकम पर कुल 18,728 रुपये का लाभ हुआ। मगर 2015-16 के वित्त वर्ष के दौरान जय की कंपनी का टर्नओवर लंबी छलांग लगाते हुए 80.5 करोड़ रुपये का हो गया। यह 2014-15 के मुकाबले सीधे 16 हजार गुना ज्यादा है।

जय की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड के टर्नओवर में उछाल की वजह 15.78 करोड़ रुपये का अनसेक्योर्ड लोन है जिसे राजेश खंडवाल की फिनांशियल सर्विसेज फर्म ने उपलब्ध कराया है। यहां यह बताना जरूरी है कि राजेश खंडवाल भाजपा के राज्यसभा सांसद और रिलायंस इंडस्ट्रीज के टॉप एग्जिक्यूटिव परिमल नथवानी के समधी हैं।

एक साल बाद अक्टूबर, 2016 में जय शाह की कंपनी ने अचानक अपने सभी कारोबार बंद कर दिए। कंपनी के डायरेक्टर की रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी को पिछले वर्षों में 1.4 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है इसकी वजह से कंपनी की शुद्ध संपत्ति में पूरी तरह से गिरावट आई है। टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड की स्थापना साल 2004 में की गई थी। जय शाह के अलावा जीतेन्द्र शाह भी कंपनी में डायरेक्टर हैं। इनके अलावा अमित शाह की पत्नी सोनल शाह की भी कंपनी में हिस्सेदारी है।

वेबसाइट ने दावा किया है कि गुरुवार को जब जय शाह से कंपनी के टर्नओवर, अनसेक्योर्ड लोन और कारोबार बंदी पर सवाल किए गए तो उन्होंने यात्रा में होने की बात कहकर कोई जवाब नहीं दिया। बाद में शुक्रवार को उनके वकील माणिक डोगरा ने आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर करने की धमकी दी मगर उन सवालों पर कोई जवाब नहीं दिया।

जय शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड के बैलेंस शीट से यह भी जाहिर होता है कि साल 2013-14 में कंपनी के पास न तो कोई अचल संपत्ति थी और न ही कोई स्टॉक था। हालांकि, कंपनी को उस साल 5,796 रुपये का इनकम टैक्स रिफंड मिला था। साल 2014-15 में कंपनी को कुल 50,000 रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। इसके बाद साल 2015-16 में कंपनी का टर्नओवर 80.5 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी के टर्नओवर में यह 16 हजार फीसदी का इजाफा है। इस दौरान कंपनी की कुल संपत्ति (ऐसेट्स) की कीमत 2 लाख रुपये थी, इससे पहले कंपनी की कोई अचल संपत्ति नहीं थी। इसके अलावा कंपनी ने कारोबार के लिए कुल 2.65 करोड़ रुपये का भुगतान किया जो इससे पहले के साल में मात्र 5,618 रुपये थी। एक और खास बात यह है कि कंपनी ने अपने खाते में 51 करोड़ रुपये की विदेशी आय सामान बिक्री से दिखाई है, जो पिछले साल शून्य थी।

आरओसी के दस्तावेज से ये भी पता चला है कि राजेश खंडवाल की कंपनी KIFS फिनांशियल सर्विसेज ने जिस साल अमित शाह के बेटे की कंपनी को 15.78 करोड़ का अनसेक्योर्ड लोन दिया था, उस साल उसकी कुल आय 7 करोड़ रुपये ही थी। इसके अलावा KIFS फिनांशियल सर्विसेज की एनुअल रिपोर्ट में टेम्पल इन्टरप्राइजेज को दिए गए 15.78 रुपये के अनसेक्योर्ड लोन का कोई जिक्र नहीं है। इस मामले राजेश खंडवाल ने पहले तो जवाब देने पर अपनी सहमति जताई लेकिन बाद में उन्होंने वेबसाइट को कोई जवाब नहीं दिया।

कांग्रेस ने देश के प्रधानमंत्री की चौकीदारी पर सवाल करते हुए करारा वार किया !

कांग्रेस ने देश के प्रधानमंत्री की चौकीदारी पर सवाल करते हुए करारा वार किया !

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी के टर्नओवर में अप्रत्याशित बढ़ोतरी पर कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने इस मामले पर बीजेपी से कई सवाल पूछे हैं। सिब्बल ने कहा है कि बीजेपी अध्यक्ष के बेटे की कंपनी का टर्नओवर अचानक 80 करोड़ कैसे हो गया ? इस मामले में ईडी और सीबीआई क्या कर रही है। दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कपिल सिब्बल ने कहा कि बिना किसी चल-अचल संपत्ति के कंपनी ने 80 करोड़ का टर्नओवर कैसे हासिल कर लिया? कपिल सिब्बल के मुताबिक कंपनी के पास ना तो कोई कच्चा माल था, और ना ही कोई स्टॉक, बावजूद इसके 80 करोड़ रुपये का टर्नओवर होना क्या आश्चर्यजनक नहीं है। कपिल सिब्बल ने इस मामले में जांच की मांग की है।

कपिल सिब्बल ने कहा कि अमित शाह के बेटे की कंपनी पहले घाटे में थी तभी अचानक इसका टर्नओवर 80 करोड़ हो गया फिर कुछ ही महीनों में ये कंपनी घाटे में चली गयी और बंद हो गयी। कपिल सिब्बल ने कहा कि कंपनी के टर्नओवर में एक साल में 16 हजार गुना की बढ़ोतरी दर्ज की गई। उन्होंने केन्द्र सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि कांग्रेस के नेताओं को परेशान करने के लिए कई केस चालू करने वाली बीजेपी नेतृत्व इस मामले पर क्या जवाब देगी। सिब्बल ने कहा कि क्या देश के प्रधान सेवक इस मामले पर अपना मुंह खोलेंगे।

योगी सरकार के मंत्री की बेटी ने योगी पर कर दिया बड़ा खुलासा, भाजपा में मच गया हड़कंप !

Loading...