फर्जी बाबा की उपाधि दिए जाने पर भड़के भक्तों के काका आसाराम, बोले- ‘मैं संत नहीं, गधा हूं’ !

0
51

जोधपुर, कुछ दिन पहले अखिल भारतीय अखाडा परिषद ने 14 फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की थी। जिसमें हाल ही में रेप के मामले में 20 साल की सजा पाया बाबा गुरमीत राम रहीम भी शामिल था। इसके अलावा एक और बाबा आसाराम का भी नाम इस लिस्ट में था। बता दें कि आसाराम भी रेप के मामले में जेल में हैं और उसके केस की सुनवाई चल रही है।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद द्वारा ‘‘फर्जी’’ बाबा घोषित किए जाने पर आसाराम नाराज हो गया है। आसाराम से जब एक पत्रकार ने पूछा कि वह किस श्रेणी के ‘बाबा’ हैं तो भक्तों के काका आसाराम भड़क उठे और खुद को ‘गधा’ कहने लगे।

आसाराम पत्रकार के सवाल पर नाराज हो गए और कहा कि वह (आसाराम) ‘‘गधे’’ की श्रेणी में आते हैं। नाबालिग लड़की के कथित यौन उत्पीड़न के मामले में जोधपुर में अदालत की सुनवाई का सामना कर रहे आसाराम को गुरुवार को अदालत परिसर में लाया गया था। इस दौरान आसाराम से अखाड़ा परिषद के फैसले पर प्रतिक्रिया मांगी गई थी। पत्रकार ने पूछा चूंकि अखाड़ा परिषद ने साफ कर दिया है कि आसाराम न तो संत है और न ही प्रवचनकर्ता है, तो वह किस श्रेणी में आते हैं। इस पर आसाराम ने कहा, ‘‘गधे की श्रेणी में’’

बता दें कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने देश के 14 फर्जी बाबाओं की सूची जारी की थी। इस लिस्ट में आसाराम उर्फ आशुमल शिरमानी, सुखविंदर कौर उर्फ राधे मां, सचिदानंद गिरी उर्फ सचिन दत्ता, गुरमीत राम रहीम, ओम बाबा उर्फ विवेकानंद झा, निर्मल बाबा उर्फ निर्मलजीत सिंह, इच्छाधारी भीमानंद उर्फ शिवमूर्ति द्विवेदी, स्वामी असीमानंद, ऊं नम: शिवाय बाबा, नारायण साईं, रामपाल, खुशी मुनि, बृहस्पति गिरि और मलकान गिरि के नाम शामिल हैं।

Loading...