ढाका में 26/11 जैसा ISIS का आतंकी हमला, 18 बंधक छुड़ाए गए, 9 में से 6 आतंकी ढेर

ढाका में 26/11 जैसा ISIS का आतंकी हमला, 18 बंधक छुड़ाए गए, 9 में से 6 आतंकी ढेर
loading...

ढाका, कोलकाता से महज 300 किलोमीटर दूर बांग्लादेश की राजधानी ढाका में 26/11 जैसा हमला हुआ है। शुक्रवार रात यहां के पॉश इलाके गुलशन राजनयिक इलाके के एक रेस्तरां में शुक्रवार रात 9 आतंकियों ने हमला बोलकर 40 लोगों को बंधक बना लिया। बंधकों में कुछ विदेशी राजनयिक भी शामिल हैं।

इनमें से ज्यादातर विदेशी हैं। एक भारतीय लड़की के भी वहां होने की खबर है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, 18 होस्टेज को छुड़ाया जा चुका है। ये भी खबर है कि 6 आतंकी मारे गए हैं जबकि एक को जिंदा पकड़ा गया है।

बंधकों को छुड़ाने के लिए देर रात पुलिस ने ऑपरेशन शुरू कर दिया। अल्लाहु अकबर के नारे लगा रहे बंदूकधारियों के साथ गोलीबारी में दो पुलिस अधिकारी की मौत हो गई। इटली के एक नागरिक की मौत की भी खबर है।

आतंकी संगठन आईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। ढाका में भारतीय दूतावास भी इसी इलाके के पास ही स्थित है।

हमले के बाद दिल्ली में विदेश मंत्रालय की ओर से एक बयान जारी कर बताया गया है कि भारतीय दूतावास के अधिकारी और कर्मचारी सुरक्षित हैं। पुलिस के मुताबिक हथियारबंद हमलावर करीब शाम को 8:45 बजे गुलशन राजनयिक इलाके में स्थित होली आर्टिसन बेकरी रेस्तरां में घुस गए और स्थानीय समयानुसार करीब 9:20 गोलीबारी शुरू कर दी।

यह रेस्तरां विदेशियों, राजनयिकों और मध्यवर्गीय परिवारों के बीच बेहद लोकप्रिय है। हमलावर ग्रेनेड, बंदूकें और तलवारें लिए हुए हैं। वे अंदर से ग्रेनेड फेंक रहे थे। और रुक-रुककर गोलीबारी कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि बंदूकधारियों ने रेस्तरां के चीफ शेफ को भी बंधक बना लिया है।

रेस्टोरेंट में हुए आतंकी हमले में बंधक बनाए लोगों में भारतीय और जापानी लोग भी शामिल हैं। लेफ्टिनेंट करनल तुहिन मोहम्मद मसूद ने स्थानीय मीडिया को जानकारी दी है कि अब तक 13 बंधकों को छुड़ाया गया है।

करीब 36 लोग हमले में बुरी तरह जख्मी हुए हैं। स्थानीय मीडिया के मुताबिक घायलों को एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया है। करीब 100 कमांडो ने मुसीबत से निपटने के लिए मोर्चा संभाला है।

आतंकियों ने दावा किया है कि उन्होंने 20 बंधकों को मार दिया है।

आतंकियों को किसी तरह की पब्लिसिटी न मिले या वो फोर्सेस के मूवमेंट को न समझ पाएं, इसके लिए बांग्लादेश में इस घटना की मीडिया कवरेज पर रोक लगा दी गई है।

मोदी के मंत्री राज्यवर्धन सिंह ने कहा है कि बंधक बनाए गए लोगों की नेशनलिटी पब्लिक न की जाए। भारत में रह रही बांग्लादेशी राइटर तस्लीमा नसरीन के मुताबिक, बंधकों में एक भारतीय लड़की भी है। नसरीन के मुताबिक, इस लड़की की फैमिली ने खुद उन्हें इस बारे में जानकारी दी है।

बांग्लादेशी मीडिया खुफिया सूत्रों के हवाले से कह रहा है कि आईएसआईएस ने हमले की जिम्मेदारी ले ली है। हालांकि, कुछ खबरों में कहा गया है कि बांग्लादेश में अल कायदा की लोकल बॉडी ने हमले की जिम्मेदारी ली है।

बता दें कि आईएस का हाथ इसलिए भी होने की आशंका है क्योंकि पिछले कुछ दिनों से बांग्लादेश में उसकी मौजूदगी की बातें सामने आई हैं। आईएस ने इस तरह के हमलों की चेतावनी भी दी थी। शुक्रवार को सुबह एक हिंदू पुजारी की भी हत्या कर दी गई थी।

यह बंगलादेश के लिए बिलकुल नया अनुभव है, बांग्लादेशी पुलिस इस तरह की घटना के लिए ट्रेंड नहीं है, इस वजह से ऑपरेशन में कई दिक्कतें आ रही हैं।

रेस्टोरेंट का मालिक सुमन रजा वहां से भागने में कामयाब रहा। सुमन रजा ने मीडिया को बताया,जब हमला हुआ था तो रेस्त्रां में ज्यादातर लोग इटली और अर्जेंटीना के थे।

अमेरिका और ब्रिटेन ने अपने नागरिकों को ढाका के गुलशन इलाके से दूर रहने की एडवाइजरी जारी की है।

इस इलाके में करीब 34 देशों की एंबेसी है। यह इलाका ढाका का हाई सिक्युरिटी जोन है। ढाका के फेमस होटल और रेस्टोरेंट इसी इलाके में हैं। विदेशी यहां रुकना और खाना पसंद करते हैं। जहां हमला हुआ है वहां से सिर्फ एक किमी दूर ही है भारत की एंबेसी।

ऑपरेशन खत्म, शेख हसीना बोलीं रमजान में हमला करने वाले ये कैसे मुसलमान

dhaka-attack-1

ढाका में आईएसआईएस आतंकियों के खिलाफ चल रहा ऑपरेशन खत्म हो गया है। सुरक्षाबलों ने रेस्टोरेंट में बंधक बनाए गए सभी लोगों को निकाल लिया है।

स्थानीय मीडिया के अनुसार बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने सभी 13 बंधकों को रेस्टोरेंट से सुरक्षित निकालने और ऑपरेशन को सफलता पूर्वक अंजाम देने पर सुरक्षाबलों को बधाई दी है।

शेख हसीना ने आतंकी हमले की निंदा करते हुए ये भी कहा कि रमजान के पाक महीने में इंसानों के मारने वाले ये कैसे इंसान हैं।

पीएम हसीना ने भी मीडिया को जानकारी दी कि 13 बंधकों को बचाने के दौरान आईएसआईएस के 6 आतंकियों को ढेर कर दिया गया।

loading...

loading...