जेपी इंफ्राटेक दिवालिया – लोगों ने कहा अगर समय पर घर न मिला तो अब कभी BJP को वोट नहीं देंगे !

0
148

नोएडा, एनसीआर की सबसे हॉट सिटी नोएडा में इन दिनों फ्लैट्स को लेकर बवाल मचा हुआ है। एक तरफ आम्रपाली ग्रुप में हजारों लोगों का पैसा फंस गया है। तो वहीं एक और बिल्डर जेपी ग्रुप को दिवालिया घोषित कर दिया गया जिससे हजारों लोगों का पैसा फास गया। ये वो लोग हैं जिन्होंने फ्लैट लेने के लिए डाउन पेमेंट दिया और टाइम टू टाइम इन्सटॉलमेंट भरते रहे मगर जब फ्लैट मिलने की बारी आई तो बिल्डर को दिवालिया घोषित कर दिया गया।

बता दें कि एनसीएलटी द्वारा जेपी इंफ्राटेक को दिवालिया घोषित किए जाने के बाद शनिवार को सैकड़ों निवेशकों ने सेक्टर-128 स्थित जेपी के दफ्तर पर जमकर हंगामा काटा। इस दौरान यहां गार्ड्स और निवेशकों के बीच झड़प भी हुई जिसमें 2-3 निवेशकों को चोटें भी आईं। निवेशकों ने जमकर नारेबाजी की और बैंक और बिल्डर पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुए कहा कि निवेशकों का पैसा हजम करने के लिए बिल्डर बैंक के साथ मिलकर खुद को दिवालिया घोषित करने की चाल चल रहा है।

मनीष नाम के एक निवेशक ने कहा कि बैंक और बिल्डर एक साथ मिले हुए हैं और हमारे पैसे को हजम करना चाहते हैं। तभी जेपी समूह के चेयरमैन मनोज गौड़ के साथ आईडीबीआई बैंक के जीएम यहां आए। जबकि उसी बैंक ने एनसीएलटी में जेपी इंफ्राटेक के खिलाफ याचिका दायर की। उन्होंने प्राधिकरण पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि प्राधिकरण और कई सत्ताधारी नेता भी बिल्डर को सपोर्ट कर रहे हैं।

एस.एन वर्मा नामक निवेशक ने बताया कि आज उनके साथ जो कुछ भी हो रहा है उसमें सरकार भी शामिल है। उन्होंने कहा कि हमने भाजपा को बड़ी उम्मीद के साथ वोट दिया था कि हमें हमारा घर मिल पाएगा। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ और अब बिल्डर को दिवालिया घोषित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ने जल्द से जल्द हमें हमारे घर नहीं दिलावाया तो अगली बार हम लोग भाजपा को वोट नहीं देंगे और अधिक से अधिक लोगों से अपील करेंगे की भाजपा को वोट न दें।

Loading...