राजस्थान में गुंडई की हदें हुई पार, प्रेमी के साथ विवाहिता को निर्वस्त्र कर सरेआम पीटा

राजस्थान में गुंडई की हदें हुई पार, प्रेमी के साथ विवाहिता को निर्वस्त्र कर सरेआम पीटा
loading...

उदयपुर, युवक-युवती को निर्वस्त्र कर पीटने और गांव में घुमाने का खुलासा तीसरे दिन भी नहीं होता, यदि फोटो वायरल नहीं हुए होते। युवती और पति को तीन दिन पहले निर्वस्त्र कर सरेआम पीटने, बेइज्जत करने का मामला सामने आया है। खुलासा गुरुवार को उस वक्त हुआ, जब पूर्व पति की रिपोर्ट पर जांच के लिए पुलिस गांव में पहुंची। युवती के पीहर पक्ष के परिवारिकजन बंधक मिले। उनसे मारपीट भी की गई।

मामला कानोड़ क्षेत्र के कसोटिया गांव का है। वहां रहने वाली शांता (26) पत्नी भंवरलाल मीणा ने 10 दिन पहले टेकण (लसाडिय़ा) निवासी लालूराम पुत्र रोड़ा मीणा से नाता कर लिया था।

भंवरलाल और कसोटिया के ग्रामीण 20 जून को दोनों को गांव ले आए, जहां निर्वस्त्र कर एक दूसरे को बांधा और मारपीट की। इसके फोटो वायरल होते ही भंवरलाल ने गुरुवार सुबह ससुराल पक्ष के खिलाफ मारपीट और पत्नी को जबर्दस्ती ले जाने का मामला दर्ज करवा दिया।

कानोड़ थाने से कांस्टेबल दोपहर में जांच के लिए पहुंचा तो शांता की मां नाल का गुड़ा (भींडर) निवासी वरजू पत्नी वेलाराम मीणा सहित भीमा पुत्र वेला, नारायण पुत्र देवीलाल, लिंबा पुत्र अमरा, भगवान पुत्र वेलाराम और रूपा पुत्र कालू बंधक मिले। इन्हें पीटा गया था।

कांस्टेबल की सूचना पर पुलिस दल पहुंचा और बंधकों को छुड़ाकर कानोड़ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज कराया। शांता की तलाश में कानोड़ थानाधिकारी राजेन्द्र गोदारा के निर्देशन में टीमें आधी रात तक जुटी रही।

युवक-युवती को निर्वस्त्र कर पीटने और गांव में घुमाने का खुलासा तीसरे दिन भी नहीं होता, यदि फोटो वायरल नहीं हुए होते। भंवरलाल की रिपोर्ट पर जांच के लिए कानोड़ पुलिस कसोटिया पहुंची तो पाया कि जिनके खिलाफ मामला दर्ज है, वही बंधक हैं। वे अपने खिलाफ दर्ज रिपोर्ट से बेखबर थे और बेटी से मारपीट होने की आशंका पर पहुंचे थे।

loading...

loading...