मनमोहन सिंह: ‘नोटबंदी’ सिर्फ संगठित लूट और जबरन वसूली है,आज देश की बर्बादी उसी का परिणाम है!

0
27

 

दिल्ली : पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने एक बार फिर से मोदी सरकार को नोटबंदी पर घेरते हुए तमाम ऐसी बातें कही हैं जिससे वर्तमान सरकार की विफल आर्थिक नीतियों की पोल खुलती है ।
उन्होंने कहा ‘मैंने पिछले साल ही संसद में कहा था कि यह “नोटबंदी” सिर्फ संगठित लूट और जबरन वसूली का कानूनी अमलीजामा है कल इस घातक निर्णय के 1 साल होने वाले हैं, पिछले 1 साल में यह निर्णय देशवासियों पर मंदी और बेरोजगारी के रूप में कहर ढ़हाता रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी के गढ़ गुजरात के अहमदाबाद में अपने संबोधन के दौरान मनमोहन सिंह ने नोटबंदी, जीएसटी और बुलेट ट्रेन पर अपने तीखे और तथ्यात्मक विचार रखे । नोटबंदी पर बोलते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि दुनिया में कोई ऐसा देश नहीं है जिसने इतना विनाशकारी निर्णय लिया हो कि अपने देश की 86 प्रतिशत करेंसी को एक साथ बंद कर दिया

मैं बार-बार इस बात को दोहरा रहा हूं कि पिछले साल मैंने ही संसद में खड़े होकर इस बात को लेकर आगाह किया था कि यह देश की अर्थव्यवस्था की बर्बादी का कारण बनेगी सरकार न तब जागी थी और ना अब जाग पा रही है

Loading...