शहीद कैप्टन आयुष की मां ने ठुकराया 25 लाख का चैक, बोली पैसे हमसे लेलो पर देश के शहीद बेटे वापस ला दो

0
139

कानपुर, कश्मीर के कुपवाडा में आतंकी हमले में शहीद हुए कैप्टन आयुष यादव के परिजनों को राज्य सरकार ने आर्थिक मदद दी है। कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने शहीद के परिजनों को 25 लाख रुपए का चेक दिया। पहले शहीद की मां ने चेक लेने से मना कर दिया और बोली की 25 लाख से ज्यादा हमसे लेलो और सारे शहीदों की माओं को उनके बेटे वापस लौटा दो।

शहीद की माँ यहीं नहीं रुकी बोली की हम माओं ने अपने बेटों को फौज में देश की रक्षा के लिए भेजा था पर हमारे बेटे तो आतंकवादियों के हाथों शहीद हो गए, पहले पठानकोट में फिर सुकुमा में 26 बेटे अपने ही देश के लोगों के हाथों शहीद हो गए, हर महीने हमारे बेटे बिना किसी युद्ध के ही आतंकवादियों के हाथों शहीद हो रहे हैं और सरकार सिर्फ भासन दे रही है। आज कहा है हमारे वो प्रधानमंत्री जो एक के बदले दस सर लाने की बड़ी – बड़ी बातें अपने चुनावी भाषणों में देते थे।

शहीद की माँ के सरकार के प्रति गुस्से के रुख को भांप कर योगी सरकार के कैब‌िनेट मंत्री सतीश महान ने शहीद की मां के पैर पकड़ ल‌िए……

कैबिनेट मंत्री ने शहीद की मां के पैर छू कर खुद को उनके बेटे जैसा बताया, जिसके बाद शहीद के परिवार ने मदद स्वीकार की। जिला प्रशासन की ओर से भी शहीद के परिजनों को पांच लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जानी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद के परिजनों के लिए तीस लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा की थी। कैबिनेट मंत्री सतीश महाना नें शहीद के परिजनों को ढांढस बंधाया और राज्य सरकार के उनके साथ होने का भरोसा दिया।

सतीश महाना ने कहा कि आयुष यादव का शहीद होना अपूर्णीय छति है जिसकी भरपाई नही की जा सकती। उन्होंने कहा सरकार की ओर से शहीद को सम्मान द‌िए जाने के बतौर यह राशी उनके पर‌िजनों की दी गई है। सरकार को आयुष पर गर्व है। इस दौरान बीजेपी सांसद देवेन्द्र सिंह भोले और एमएलसी अरुण पाठक भी मौजूद रहे।

Loading...