कई BJP नेता गोमांस खाते हैं, बीफ पर प्रतिबंध लगाने का सवाल ही नहीं उठता ! पढ़ें पूरी खबर !

0
216
Loading...

लखनऊ, भारतीय जनता पार्टी द्वारा सत्ता में आने पर देश भर में बीफ पर बन लगाने की बात कर रही है। इसके लिए कानून भी बनाया जा रहा है। बीजेपी की तरफ से पुरे देश में बीफ के साथ साथ अन्य मांस पर भी प्रतिबन्ध लगाने की तैयारी चल रही है। जिसके लिए मवेशियों की बिक्री पर रोक लगा दी गयी है। तो वहीं दूसरी तरफ नार्थ ईस्ट के मेघालय में बीजेपी के एक नेता ने सोमवार को कहा कि यदि उनकी पार्टी राज्य में सत्ता में आती है तो गो मांस पर प्रतिबंध नहीं होगा और बूचड़खानों को कानूनी रूप से मान्यता दी जाएगी, और इससे विभिन्न प्रकार के मांस की कीमतें घटेंगी।

गोमांस पर बैन लगाने का सवाल ही नहीं

बीजेपी नेता बर्नार्ड मरक ने कहा, मेघालय में कई बीजेपी नेता गोमांस खाते हैं, मेघालय जैसे शहर में गोमांस पर प्रतिबंध लगाने का सवाल ही नहीं उठता। मेघालय में बीजेपी नेताओं को पहाड़ी क्षेत्रों की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि और संवैधानिक प्रावधानों के बारे में अच्छी तरह पता है।

आतंकवादी से नेता बने बर्नार्ड ने कहा, “यदि बीजेपी 2018 में सत्ता में आती है तो गोमांस पर प्रतिबंध नहीं लगाएगी। इसके बजाय मांस की उचित दर तय की जाएगी और बूचड़खानों को कानूनी रूप से मान्यता दी जाएगी, जिससे गो मांस और अन्य मांसों की कीमतें कम घटेंगीं।

मांस की जांच के लिए उचित बूचड़खाने नहीं

बर्नार्ड मरक ने कहा, गोमांस महंगा होने के कारण इसे सभी नहीं खरीद सकते। सरकार मांस की कीमतों में एकरूपता लाने में नाकाम रही है, जो जनता के लिए उत्पीड़न है। मरक ने कहा कि मेघालय के खुले बाजारों में बिकने वाले मांस की जांच के लिए उचित बूचड़खाने नहीं हैं।

उन्होंने कहा, लोग हानिकारक खाद्य पदार्थ के संपर्क में आते हैं और कभी-कभी रासायनिक पदार्थ भी उसमें मिले होते हैं, जिसे बुजुर्ग और युवा खाते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी मांस की गुणवत्ता की जांच के लिए और कीमतों में कमी के लिए बूचड़खानों की स्थापना हेतु हर संभव प्रयास करेगी, जो कांग्रेस की सरकार ने नहीं किया।

Loading...