योगी के गढ़ में नाबालिग से 4 दिन तक होता रहा रेप, एंटी रोमियो टीम मस्त रही लवर्स को पकड़ने में

0
198
Loading...

लखनऊ, उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एंटी रोमियो टीम बनाई है जो लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने वालों को पकड़ेगी और जेल भेजेगी मगर शोहदों को पकड़ने की जगह एंटी रोमियो टीम रोमियो और जूलियट को ही पकड़ रहे हैं और आम जनता को परेशानी झेलनी पड़ रही है।

सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ से एक शर्मनाक खबर आ रही है। गोरखपुर देहात के सहजनवां इलाके में स्कूल जा रही नाबालिग लड़की का अपहरण कर चार दिनों तक बलात्कार किया गया है।

चार दिनों तक बंधक बनाकर बलात्कार किए जाने पर हालत बिगड़ने लगी तो आरोपी उसे घर के पास छोड़ गया। पिता की तहरीर पर पुलिस ने अपहरण कर रेप का मुकदमा दर्ज कर आरोपी सिपाही के बेटे की तलाश शुरू कर दी है। पीड़ित छात्रा को अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

रिपोर्टस के मुताबिक, 14 वर्षीय पीड़ित छात्रा पास के ही स्कूल में आठवीं कक्षा में पढ़ती है। 22 मार्च को वह घर से स्कूल जाने के लिए निकली थी, तभी रास्ते में सिपाही का बेटा सोनू उसे जबरन गाड़ी में बैठाकर भाग निकला। आरोप है कि रिश्तेदार के घर ले जाकर उसने छात्रा को बंधक बनाकर उससे रेप किया। उसकी हालत बिगड़ी तो शनिवार देर रात उसे घर के पास छोड़ दिया, जिसके बाद छात्रा ने आपबीती घरवालों को बताई।

परेशान घरवाले फरियाद लेकर थाने पहुंच गए। पुलिस ने पहले तो तहरीर लेकर लौटा दिया, मगर बाद में सोनू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। आरोपी के पिता की सिद्धार्थनगर में तैनाती है। पुलिस ने मामले की पड़ताल शुरू कर दी है।

सहजनवां उसी गोरखपुर देहात का इलाका है जहां से योगी आदित्यनाथ लगातार पांच बार से सांसद बनते आ रहे हैं। योगी आदित्यनाथ कई बार यह दावा कर चुके हैं कि उनके क्षेत्र में खूब विकास हुआ है। यह भी कहा जाता है कि गोरखपुर में अपराधी योगी आदित्यनाथ के नाम मात्र से कांपते हैं।

फिलहाल लोग सवाल उठा रहे हैं कि जब दिन-दहाड़े नाबालिग लड़की का अपहरण हुआ तो एंटी रोमियो स्क्याड की टीम कहां थी? चार दिन तक लड़की का पता क्यों नहीं चला? लोग यह भी कह रहे हैं कि जब योगी जी अपने गढ़ को 19 साल में सुरक्षित नहीं कर पाए तो यूपी को कैसे सुरक्षित करेंगे?