शरद के करीबी नेता का बड़ा बयान, शरद गुट असली जद (यू), नितीश गुट भाजपा, पार्टी में दो फाड़ तय !

0
72
Loading...

नई दिल्ली, बिहार में भाजपा के खिलाफ कांग्रेस और राजद के साथ मिलकर महागठबंधन बनाने वाली जेडीयू ने महागठबंधन तोड़कर बीजेपी के साथ सरकार बना ली। नीतीश कुमार के इस फैसले से जेडीयू का एक धड़ा नाराज चल रहा है और पार्टी से बगावत की पूरी तयारी कर चुका बस औपचारिक ऐलान होना बाकी है। नीतीश के फैसले का सबसे पहले उनकी पार्टी के वरिष्ठ सांसद और मुस्लिम चेहरे अली अनवर ने विरोध किया और जेडीयू में बगावत का बिगुल फूंका।

बगावत का बिगुल बजाने वाले सांसद अली अनवर अंसारी ने कहा कि शरद यादव का गुट ही असली जेडीयू है और उनके पार्टी छोडऩे का सवाल ही नहीं उठता। अली अनवर को 11 अगस्त को विपक्षी दलों की बैठक में हिस्सा लेने को लेकर पार्टी संसदीय दल से निलंबित कर दिया गया।

अली अनवर ने शनिवार को कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाला धड़ा सरकारी जद (यू) बन चुका है। अली अनवर ने यहां संवाददाताओं से कहा, पार्टी छोडऩे का सवाल ही नहीं उठता। हमने पार्टी की स्थापना की है। शरद यादव के नेतृत्व वाला धड़ा ही असली जद (यू) है, जबकि शेष धड़ा सरकारी जद (यू) और भाजपा जद (यू) बन चुका है।

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और कांग्रेस के साथ महागठबंधन तोडक़र भाजपा के साथ बिहार में नई सरकार बनाने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का उपहास करते हुए अनवर ने कहा, हम असली पार्टी हैं, क्योंकि हम अभी भी जद (यू) के सिद्धांतों से बंधे हुए हैं, लेकिन वे (नीतीश) बदलकर बीजेडी (यू) हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि यह नीतीश कुमार के खिलाफ व्यक्तिगत लड़ाई नहीं है, बल्कि सिद्धांतों की लड़ाई है और लोकतंत्र और भाईचारे की रक्षा की लड़ाई है।

अनवर ने कहा, शुक्रवार को उन्होंने मुझे पार्टी संसदीय दल से निकाल दिया। शरद यादव को उन्होंने शनिवार को संसदीय दल के नेता पद से हटा दिया, जो जद (यू) के संस्थापक सदस्य हैं। उन्होंने कहा, हम जन आंदोलन खड़ा करेंगे। हमारे पास कार्यकर्ताओं, विद्यार्थियों और समाजिक कार्यकर्ताओं का समर्थन है। हम देशभर के विभिन्न विश्वविद्यालयों में जाएंगे। हम दलितों के बीच जाएंगे और लोकतंत्र, संविधान और देश के सामाजिक ताने-बाने को बचाने की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि वे अभी इस बात का फैसला करेंगे कि 19 अगस्त को होने वाली जद (यू) की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में हिस्सा लें या नहीं।

Loading...