मैनपुरी सड़क हादसे में 17 यात्रियों की मौत, मुलायम सिंह यादव ने अस्पताल पहुँचकर घायलों का हाल जाना !

0
2

 

मैनपुरी : उत्तर प्रदेश में पिछले कुछ समय से लगातार बड़े सड़क हादसे हो रहे हैं, जिसमे अब तक सैकङों लोगों की जान जा चुकी है। हाल ही में एक स्कूल बस कन्नौज में दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी जिसमे 7 स्कूली बच्चे और एक टीचर की जान चली गयी थी। इस दर्दनाक घटना के 2 दिन बाद ही जयपुर से फर्रूखाबाद की तरफ जा रही प्राइवेट स्लीपर कोच बस इटावा रोड पर करहल थाना क्षेत्र के गांव कीरतपुर के पास डिवाइडर से टकराकर पलट गई। हादसे में 17 यात्रियों की मौत हो गई। 30 यात्री घायल हो गए। हादसे के वक्त बस ओवरलोड थी। बस की छत पर करीब 30 यात्री बैठे हुए थे। मरने वाले अधिकतर यात्री बस की छत पर ही बैठे थे। हादसे की वजह चालक को झपकी आना बताया गया है।

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव सड़क हादसे में घायल लोगों को देखने अस्पताल पहुंचे !

Image may contain: 11 peopleसमाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने मैनपुरी जिला अस्पताल पहुंचकर बस हादसे में घायल लोगों का हाल जाना। उनके परिवार को सांत्वना दी। साथ ही हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। घायलों को मैनपुरी जिला अस्पताल और सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। दोपहर बाद सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव घायलों से मिलने जिला पहुंचे। उन्होंने प्रत्येक घायल से हाल जाना।

मुलायम सिंह ने कहा कि यह बस हादसा हृदय विदारक था। वो इस दुख की घड़ी में पीड़ित परिवारों के साथ खड़े हैं। इसके साथ ही सपा संरक्षक ने पीड़ितों को हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिया।

इस भीषण सड़क हादसे में 17 लोगों की दर्दनाक मौत हो गयी, प्रशासन ने मृतकों के लिए 2-2 लाख और घायलों के लिए 50 हजार का मुआवजा घोषित किया है !

Image may contain: 3 people, crowd and outdoorफर्रूखाबाद के मान ट्रेवेल्स की बस यूपी 76 के-7275 मंगलवार की शाम करीब साढ़े 9 बजे जयपुर (राजस्थान) से फर्रूखाबाद के लिए रवाना हुई थी। आगरा से लखनऊ एक्सप्रेस वे होते हुए बस इटावा-मैनपुरी हाईवे पर पहुंची । करहल थाना क्षेत्र के गांव कीरतपुर के पास बुधवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे बस चालक को अचानक झपकी आ गई। इससे बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराने के बाद पलट गई।

घायल यात्रियों ने बताया कि बस में करीब 90 से सौ यात्री सवार थे। कुछ यात्री बस की गैलरी में बैठे हुए थे। वहीं 25 से 30 यात्री बस की छत पर यात्रा कर रहे थे। छत पर सवार यात्री बस के पलटते ही सड़क पर गिर गए और बस के नीचे दब गए।

हादसे की सूचना पर डीएम प्रदीप कुमार, एसपी अजय शंकर राय भारी पुलिस फोर्स और प्रशासनिक अफसरों के साथ मौके पर पहुंचे। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

यहां से तीन यात्रियों को हालत गंभीर देखते हुए सैफई रेफर किया गया। सैफई में 30 वर्षीय मोहित उर्फ नंदन पुत्र वीरपाल निवासी पानपुर, छिबरामऊ कन्नौज ने दम तोड़ दिया।

हादसे के बाद मैनपुरी विधायक राजू यादव और अन्य सपा कार्यकर्ता जिला अस्पताल पहुंचे और घायलों के लिए खून देने का इंतजाम किया तथा घायलों का हालचाल जाना। वहीँ भाजपा नेता और प्रभारी मंत्री भी अस्पताल पहुंचे।

इसके बाद पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचकर मृतकों के बारे में जानकारी ली। प्रभारी मंत्री ने शासन की ओर से मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की।

पुलिस के आला अधिकारी मौंके पर पहुंचे !

हादसे की जानकारी होने पर कमिश्नर आगरा मंडल के राममोहन राव व आईजी आगरा जोन राजा श्रीवास्तव जिला अस्पताल पहुंचे। उन्होंने बेहतर उपचार के निर्देश अस्पताल प्रशासन को दिए।

हादसे में बस चालक मुकुल कुमार निवासी गुरसहायगंज जिला कन्नौज गंभीर रूप से घायल हो गया। चालक का एक पैर कट गया है। उसे जिला अस्पताल से इलाज के लिए सैफई रेफर किया गया है।

जिलाधिकारी प्रदीप कुमार ने कहा कि हादसा बेहद दुखद है। इसके कारणों की जांच के आदेश दिए गए हैं। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। घायलों को बेहतर इलाज मुहैया कराया जा रहा है।

एसपी अजय शंकर राय ने बताया कि बस पलटने से 17 यात्रियों की मौत हुई है। बस ओवरलोड बताई गई है। हादसे के कारणों की पुलिस जांच कर रही है। इसके बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Loading...