बिहार: 9 छात्रों का हत्यारा BJP नेता गिरफ्तार, तेजस्वी बोले- सरकार ने ही अब तक छुपा रखा था ताकि…!

0
0

 

मुजफ्फरपुर : बिहार में कानूनी तौर पर तो शराब बंदी है पर अगर सरकार से जुड़े हुए किसी नेता को चाहिए तो उसे बिना किसी रोक-टोक के उपलब्ध हो जाती है। इसी अवैध शराब के चलते मुजफ्फरपुर जिले के झपहा के धर्मपुर गांव में स्थित एक सरकारी स्कूल की इमारत में एक अनियंत्रित कार घुस गई थी। जिसने 33 लोगों को कुचला दिया था। इस घटना में 9 छात्रों की मौत हो गई थी। इस कार को शराब के नशे में धुत्त भाजपा नेता मनोज बैठा चला रहे थे । हालाँकि भाजपा नेता मनोज बैठा का नाम इस घटना में आने के बाद पार्टी ने उसे निष्कासित कर दिया था।

भारी दबाव के बीच आज मनोज बैठा ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। घटना के समय मनोज को भी चोट लगी थी। जिसकी वजह से पहले उसे श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज में अस्पताल भर्ती करवाया गया था लेकिन बाद में वहां से उसे पटना मेडिकल कॉलेज शिफ्ट कर दिया गया है। मंगलवार को बैठा के पिता का बयान आया था जिसमें उनका कहना था कि ड्राइवर गाड़ी को लेकर गया था। हमें नहीं पता कि फिर क्या हुआ।

वहीँ आरोपी के गिरफ्तार होने के बाद तेजस्वी यादव का कहना है कि वह (आरोपी) पास में ही सरकार की सरपरस्ती में छुपा हुआ था लेकिन प्रशासन ने उसे पकड़ा नहीं। मैंने पहले ही कहा था कि आरोपी तब सरेंडर करेगा जब वह और भाजपा इस बात को लेकर निश्चिंत हो जायेगी कि उसके शरीर में शराब नहीं मिलेगी। उनका कहना है कि बिहार की जनता जान रही है कि यहाँ कानून का कैसा शासन है।

इस घटना को लेकर विपक्ष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी पर निशाना साध रही थी। कल विधानसभा के बाहर सभी विपक्षी पार्टियों ने विरोध प्रदर्शन किया। राबड़ी देवी का कहना था कि सरकार को शर्म आनी चाहिए। शराब पर पूर्ण प्रतिबंध नहीं लगा है, यह आसानी से उपलब्ध है। जब तक मनोज बैठा गिरफ्तार नहीं हो जाता हम विधानसभा को चलने नहीं देंगे।

Loading...