नोएडा – छेड़छाड़ का विरोध करने पर लड़की को छत से नीचे फेंका, केंद्रीय मंत्री के अस्पताल ने नहीं क्या भर्ती !

0
308

नोएडा, उत्तर प्रदेश में अपराध का ग्राफ दिन पर दिन बढ़त ही जा रहा है। कोई भी हो क्राइम करने से पहले एकबार भी नहीं सोच रहा है। चाहे वो नोएडा जैसा विकसित शहर ही क्यों न हो अभी कुछ दिन पहले नॉएडा के सेक्टर 62 में लावा कंपनी में कार्यरत महिला इंजीनियर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या करने वाला भी एक इंजीनियर ही था। खबर आ रही है कि नोएडा के ही सेक्टर 34 में एक लड़की को छेड़छाड़ का विरोध करने पर युवक ने छत से फेंक दिया।

नोएडा के सेक्टर 34 में एक युवक ने छेड़छाड़ का विरोध करने पर एक किशोरी को छत से नीचे फेंक दिया। इस घटना में किशोरी गंभीर रूप से घायल हो गयी। शर्मनाक बात ये है कि चार अस्पतालों से लड़की को पैसे के अभाव में एक से दूसरी जगह रैफर कर दिया गया। अब जिला अस्पताल में लड़की का इलाज चल रहा है।

घटना 19 मई की है नोएडा के सेक्टर 34 के मोरना गांव में एक युवक ने किशोरी के साथ छेड़छाड़ की थी। लड़की ने इस बात का विरोध किया तो युवक अपना आपा खो बैठा और उसने किशोरी को छत से नीचे फेंक दिया। गंभीर हालत में उसे सेक्टर-51 के अस्पताल ले जाया गया। जहां से उसे कैलाश अस्पताल भेज दिया गया। बता दें कि कैलाश हॉस्पिटल केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा का है। आपको यह भी बता दें कि नोएडा से ही गृहमंत्री के पुत्र पंकज सिंह विधायक भी हैं।

वहां से लड़की को सेक्टर-19 स्थित मैक्स अस्पताल भेजा गया और फिर वहां से घायल लड़की को दिल्ली के पटपड़गंज स्थित मैक्स अस्पताल में भेजा गया लेकिन बाद में पैसे के अभाव में परिजनों ने बेटी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत अभी गंभीर बनी हुई है।

किशोरी के परिजनों ने सेक्टर-24 थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत दी है। आरोपी युवक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। लेकिन पुलिस ने अभी तक आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है। सीसीटीवी कैमरे में 19 मई की घटना कैद है, फुटेज मे साफ दिखाई दे रहा है, कि लड़की ऊपर से गिर रही है। इसके बाद पड़ोस में रहने वाला अपराधी किस्म का लड़का टोनी राघव मोबाइल पर बात करता हुआ किशोरी के पास आता दिखता है। वह किशोरी को पलटकर देखता है और मोबाइल पर बात करते हुए चला जाता है। फुटेज देखने के बाद उन्हें पता चला कि छेड़छाड़ के विरोध में उनकी बेटी को टोनी ने ही ऊपर से फेंका था।

आरोपी छेड़खानी जैसी हरकतें पहले भी कर चुका था। किशोरी के परिजनों का कहना है, कि घटना के 10 दिन पहले टोनी ने उनकी बेटी के साथ छेड़छाड़ की थी। इस पर उन्होंने टोनी को डांटा भी था। टोनी के परिवार से भी शिकायत की गई थी। आरोप है कि टोनी ने उनकी बेटी को जान से मारने की धमकी भी दी थी।

पुलिस अधिकारियों का कहना है परिजनों की शिकायत के आधार पर कोतवाली 24 में मामले की एफआईआर दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है। हालांकि अभी आरोपी पुलिस की पहुंच से बाहर है।

Loading...