बीजेपी विधायक की बेटी पर मनचले ने किया हमला, हाथ की उंगलिया कटी, आम जनता का क्या हाल होगा

0
58
Loading...

लखनऊ, भाजपा शाषित महाराष्ट्र में बीजेपी विधायक की बेटी ही सुरक्षित नहीं है तो आम जनता कैसे सुरक्षित महसूस करती होगी। 2015 की NCRB की रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश के बाद दूसरे नम्बर का राज्य है जहां महिलाओं के खिलाफ सबसे ज्यादा अपराध होते हैं।

रिपोर्टस के मुताबिक पुणे में भाजपा विधायक की 22 वर्षीय बेटी पर उसके ही पूर्व प्रेमी ने तेजधार हथियार से हमला कर उसे घायल कर दिया है। महाराष्ट्र के यवतमाल जिले से विधायक की बेटी को हमले में हाथ पर चोट आई है। पुलिस के अनुसार, आरोपी की आयु करीब 25 साल है और वह हरियाणा का रहने वाला है।

घायल हुई पीड़िता का नाम अश्वनि बोतकुलवार है, जो कि पुणे के वाकड़ स्थित बालाजी इंस्टीट्यूट में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही है। जबकि आरोपी वकड़ में युवती के साथ उसी कॉलेज से एमबीए की पढ़ाई कर रहा है।

पुलिस के मुताबिक यह एकतरफा प्रेम का मामला है। पुलिस के मुताबिक पीड़िता वनी विधानसभा क्षेत्र के विधायक संजय बोतकुलवार की बेटी है, जो कि सुबह घर से अपने कॉलेज के लिए निकली थी। जैसे ही कॉलेज पहुंची तो बाहर उसकी अश्विनी और उसके दोस्त राजेश बक्शी के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी होने लगी। इसके बाद जैसी अश्विनी वहां से जाने लगी तो राजेश ने धारदार हथियार से उस पर जानलेवा हमला कर दिया। राजेश ने अश्वनि पर हमला पूरी ताकत लगाकर किया था, जिस कारण उसकी लेफ्ट हाथ की उंगली तो कट गई और तीन दांत भी टूट गए हैं।

इसके बाद अश्विनी वहीं लहूलुहान होकर गिर पड़ी। बाद में उसके दोस्तों ने इस बारे में पुलिस को इनफॉर्म किया और अश्वनि को अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल अश्वनि का इलाज जारी है और पुलिस ने उस पर हमला करने वाले आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। राजेश बख्शी को आईपीसी की धारा 307 यानी हत्या करने की कोशिश के तहत गिरफ्तार किया गया है। राजेश हरियाणा का रहने वाला है। पुलिस के मुताबिक आरोपी राजेश पिछले कुछ महीने से विधायक की बेटी का पीछा कर रहा था।

इस मामले के बाद विधायक संजीव रेड्डी बोदकुरवार ने मीडिया से बात करते हुए अपनी बेटी अश्विनी के बारे में बताया कि वो अब खतरे से बाहर है और उसका इलाज चल रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य में आए दिन हो रहे हमलों से लड़कियों की स्थिति चिंताजनक है। उन्होंने कहा कि वे इस मामले में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मिलकर बात करेंगे, ताकि आगे किसी की बेटी पर ऐसे हमले न हो सकें।

Loading...