योगी के जंगलराज में कृष्ण नगरी “मथुरा” हुयी खून से लथपथ, 3 व्यापारियों की हत्या कर 4 करोड़ की लूट !

0
462

मथुरा : मथुरा में बढ़ते अपराधों से हर कोई दहशत में है। हर रोज लूट, कत्ल और डकैती की वारदातें हो रही हैं। न कोई घर में सुरक्षित रह गया है और न ही बाजार में है। कब किसके साथ घटना हो जाए कुछ कहा नहीं जा सकता। कारोबारी सबसे ज्यादा दहशत में हैं। लोगों का कहना है कि अगर यही हाल रहा तो कारोबार करना मुश्किल हो जाएगा। पुलिस वारदातों का खुलासा तक नहीं कर पा रही है।

वाकई अब मथुरा में कानून का राज रह नहीं गया है। ताबड़तोड़ वारदातों से कांप रहा शहर सोमवार की शाम को हुई वारदात से दहल गया। दहशत का आलम यह था कि व्यापारियों ने खुद को दुकानों के भीतर कैद कर लिया था। जब तक पुलिस नहीं पहुंच गई बाजार में पूरी तरह से सन्नाटा रहा।

पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठने लगे हैं। लोगों का कहना है कि पहले पुलिस की ड़ायल 100 की गाड़ियाँ गश्त करती थी पर योगी सरकार में अब वो भी पूरी तरह से बंद हो गई है। यही वजह है कि बदमाशों को पुलिस का खौफ रह ही नहीं गया है। बदमाश ताबड़तोड़ वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। कानून व्यवस्था नाम की तो कोई चीज रह ही नहीं गई है। व्यापारियों ने बताया कि जिस तरह से बदमाश असलहे लहराते हुए जा रहे थे उससे लग रहा था कि बदमाशों को पुलिस का जरा भी डर अब रह नहीं गया है

मथुरा में सोमवार की रात को सवा आठ बजे शहर के बीचों बीच कोयला वाली गली में मयंक सर्राफा की दुकान पर लूटपाट करते बदमाशों द्वारा की गई गोलीबारी में दिल्ली के सर्राफ सहित दो लोगों की मौत हो गई। दुकान स्वामी और कारीगर गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। आठ नकाबपोश बदमाश बताए जा रहे हैं जो चार मोटरसाइकिलों पर सवार होकर पहुंचे थे।

दहला देने वाली यह वारदात होलीगेट के पास स्थित कोयला वाली गली की है। रात को करीब आठ बजे सिविल लाइंस के रहने वाले मयंक अग्रवाल पुत्र मोहनलाल अग्रवाल अपनी सर्राफा की दुकान पर थे। मयंक चेन के नाम से उनकी फर्म है। साथ में उनका बड़ा भाई विकास अग्रवाल भी था। मेरठ का एक कारीगर भी दुकान में था।

डेंपियर नगर निवासी मेघ अग्रवाल जो दिल्ली में ज्वैलरी का कारोबार करते हैं वह भी यहां बैठे हुए थे। करीब सवा आठ बजे का वक्त था कि चार मोटरसाइकिलों पर सवार होकर आठ बदमाश पहुंचे। इन बदमाशों ने पहुंचते ही गोलियां चलानी शुरू कर दीं। गेट के पास बैठे मेघ अग्रवाल (34) पुत्र महेश चंद्र अग्रवाल के चेहरे पर गोली लगी जिससे वह दुकान में ही गिर गए। जबकि मयंक अग्रवाल के कंधे और पेट में गोली लगी। विकास अग्रवाल के हाथ में और सिर में गोली लगी

जबकि मेरठ निवासी ज्वैलरी कारीगर अशोक के पेट में गोली लगी। मेघ अग्रवाल की दुकान पर ही मौत हो गई थी। विकास ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। बदमाशों ने दुकान में करीब पंद्रह मिनट तक लूटपाट की। माना जा रहा है कि करीब चार करोड़ के गहने और सोना बदमाश लूटकर ले गए हैं। सभी घायलों को नयति में भर्ती करा दिया है जहां हालत चिंताजनक बनी हुई है।

पिछले 2 माह में मथुरा में हुये ताबड़तोड़ अपराधों पर एक नजर —-

  • 18 मार्च 2017 को थाना हाईवे की अमर कालोनी में बनवारी-पत्नी रविबाला की हत्या करके दो लाख लूटे ।
  • 22 मार्च को थाना हाईवे की तत्वदर्शी कालोनी में फार्मासिस्ट वीके सारस्वत के घर में मा-पुत्र को बंधक बनाकर 10 लाख की डकैती ।
  • 16 मार्च को थाना गोविंदनगर के एफ सेक्टर में रिटायर्ड अधिकारी बीडी गुप्ता के घर में घुसे होंडा सिटी सवार बदमाशों ने दो लाख रुपए के जेवरात लूट, साथी की गोली से बदमाश गाजियाबाद का फकरुद्दीन की मौत ।
  • 15 अप्रैल एक्सप्रेस-वे पर राया कट पर राया के कपड़ा व्यापारी अमरनाथ अग्रवाल के पुत्र गौरव अग्रवाल से आल्टो कार सवार बदमाशों ने 2.44 लाख की लूट करते लैपटॉप, मोबाइल आदि भी लूट लिया ।
  • 18 अप्रैल को शेरगढ़ में महेश चंद गर्ग गुड्डू से 5.75 लाख की लूट ।
  • 29 अप्रैल को शेरगढ़ में भरतपुर के जगदीश से ट्रैक्टर-ट्राली लूटी ।
  • 29 अप्रैल को थाना नौहझील के गांव रामनगला में रंग डालने को लेकर गोली मारकर संतोष की हत्या।
  • 29 अप्रैल को कोतवाली क्षेत्र के प्यारे के बगीचा में बहन से छेड़छाड़ के विरोध पर पिता-पुत्र की गोली मारी, पुत्र गौरव की मौत ।
  • 29 अप्रैल को शेरगढ़ के गांव बसई बुजर्ग में वृद्व उदयवीर की हत्या ।
  • 30 अप्रैल को थाना महावन की राधिका कालोनी में देवर ने भाभी की गोली मारकर हत्या की, अपने पुत्र को वारिस न बनाने पर ।
  • 3 मई को गोवर्धन के माधुरीकुंड के जंगल में बहन मीनू एवं चचेरी बहन खुश्बू से छेड़छाड़, लूटपाट का विरोध करने पर भाई चंद्रशेखर की गोली मारकर हत्या ।
  • 6 मई को कोतवाली के छत्ता बाजार की मातागली के बिहारीपुरा में सुनार भगवती प्रसाद वर्मा की गला घोंटकर हत्या से सनसनी, चार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज ।
  • 15 मई को मयंक सर्राफा की दुकान पर लूटपाट करते बदमाशों द्वारा की गई गोलीबारी में दिल्ली के सर्राफ सहित दो लोगों की मौत हो गई। दुकान स्वामी और कारीगर सहीत 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

Loading...