योगी सरकार के मंत्री की मूर्खता से खराब हुई 10 करोड़ की MRI मशीन, गरीब मरीजों की मुश्किलें बढ़ीं !

0
252
Loading...

 

लखनऊ, योगी सरकार के मंत्रियों के रसूख के चलते जनता को बड़ी मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है। यूपी के खादी ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी के वीआईपी कल्चर की वजह से लखनऊ में मरीजों के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई। शुक्रवार को यूपी के योगी के मंत्री सत्यदेव पचौरी लखनऊ के लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में इलाज कराने गए थे।

डॉक्टरों ने उनके सिर के एमआरआई की सलाह दी, जिसके बाद मंत्री पचौरी को एमआरआई रूम में लाया गया। उसी दौरान मंत्री का गनर पिस्टल लेकर कमरे के अंदर चला गया। जैसे ही मंत्री का गनर अंदर गया एमआरआई मशीन की मैग्नेटिक फील्ड ने पिस्टल अंदर खींच ली और पिस्टल मशीन में चिपक गई।

इसके बाद मशीन ने काम करना बंद कर दिया, जिससे मरीजों को काफी परेशानी हो रही है। सूत्रों के मुताबिक मशीन को ठीक करने में करीब 10 दिन लग जाएंगे और इसको ठीक करने में करीब 15 लाख रुपये का ख़र्च आएगा।

एमआरआई रूम में लोहे की बनी कोई भी चीज साथ ले जाना मना है। बताया जा रहा है कि अस्पताल के कर्मचारियों ने गनर को रोकने की कोशिश की, तो वह भड़क गया और मना करने केे बावजूद अंदर चला गया।

ये वही मंत्री हैं जिन्होंने कुछ दिन पहले एक दिव्यांग को लूला लगदा कहकर सम्बोधित किया था।

You May Like This

सत्ता के नशे में चूर योगी के मंत्री के विवादित बोल, ‘दिव्यांग’ से कहा- लूला-लंगड़ा क्या सफाई कर पाएगा?