पीएम मोदी ने 31वीं बार मन की बात करते हुए प्रवचन दिया, जेल में बंद आशाराम ने सुन कर तारीफ की

0
64

लखनऊ, पीएम मोदी ने आज 31वीं बार मन की बात करते हुए लम्बा चौड़ा प्रवचन दिया पर अपने दिल में छुपी बात को नहीं बताया। पीएम मोदी जी के प्रवचन से शहीद होते जवानों, नंगे घूमते और पेशाब पीते किसानों तथा बेरोजगार करोड़ों युवाओं के बारे में कुछ नहीं बोले। नोटबंदी के बाद से आज तक कालेधन के बारे में मोदी जी ने कुछ नहीं बोलै और देश को यह भी नहीं बताया कि नोटबंदी से देश को फायदा हुआ की नुक्सान। वहीं 56 इंच की बात करने वाले मोदी जी शहीद होते जवानो के बारे में बोलना मुनासिब नहीं समझा और प्रवचन देते रहे।

आज की मन की बात में पीएम मोदी जी ने क्या क्या कहा-

  • ‘मन की बात’ प्रोग्राम में पीएम ने लोगों को जुड़ने के लिए शुक्रिया अदा किया।
  • देश के युवा खाने और अन्न की बचत में पूरा सहयोग दे रहे है।
  • 1 मई पर गुजरात और महाराष्ट्र के स्थापना दिवस की बधाई दी।
  • मई-जून वाली गर्मी मार्च-अप्रैल में महसूस की जाने लगी है।
  • पशु-पक्षियों से लगाव की बात करते हुए कहा कि बच्चों का इस विषय में खास लगाव होता है।
  • गर्मी के दिनों में पोस्टमैन, सब्जी वाले और कुरियर वालों को पानी के लिए पूछें।
  • उन्होंने युवाओं से अपने कंफर्ट जोन को छोड़ने के लिए कहा।
  • गर्मी की छुट्टियों में युवाओं को भीड़भाड़ ट्रेन में सफर करना चाहिए।
  • कभी गरीब और पिछड़े इलाकों में अपने खेल के संसाधन लेकर जाएं वहां के वंचित बच्चों के साथ खेलें।
  • उन्होंने लोगों से जुड़ते हुए कुछ नया सीखने की अपील की।
  • युवा तकनीक से दूर जाकर हुनर का विकास करें।
  • तकनीक हमें अपनों से दूर लेकर जा रही है।
  • युवाओं को ट्रेवलिंग, स्विमिंग, कैपिंग जैसे अनुभव लेने चाहिए।
  • अनुभव साझा करने के लिए #IncredibleIndia के साथ तस्वीरें पोस्ट करें।
  • भीम एप और डिजिटल कैश को लोकप्रिय करने पर जोर दिया।
  • लाल बत्ती धीरे-धीरे दिमाग में घर कर जाती थी।
  • VIP की जगह EPI पर जोर दिया।
  • पीएम ने ईपीआई का मतलब ‘एवरी पर्सन इज इंपोर्टेंट’ बताया।
  • रामानुजाचार्य जी की 1000वीं जयंती पर कहा कि महापुरुष हमारे समाज से निकलते हैं।
  • रामानुजाचार्य जी के 1000वीं जयंती पर सरकार एक नई स्टांप निकालेगी।
  • भगवान बुद्ध के विचार युद्ध, आतंकवाद, जैसी समस्याओं से लड़ने में प्रेरणादायक।

Loading...