छात्रों को नक्सली बता कर जेल भेजने के विरोध में हुआ प्रदर्शन, निलंबन वापस लेने की अपील !

0
243

लखनऊ, लखनऊ विश्वविद्यालय में मुख्यमंत्री योगी का विरोध करने पर गंभीर आपराधिक धाराएं लगाकर उन्हें जेल भेज देने तथा लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा उनमे से 8 छात्रों का निलंबन करने के खिलाफ आज तमाम छात्र संगठन व स्वतंत्र नेता जी.पी.ओ. पर विरोध प्रदर्शन करने पहुँचे, जहां योगी सरकार की पुलिस बड़ी संख्या में पहले से मौजूद थी, जिसने छात्रों के साथ धक्का-मुक्की तथा झड़प की और लाठी चार्ज भी किया। इसके बावजूद छात्रों ने इससे लड़ते हुए धरना प्रदर्शन किया तथा राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपा।

जिसकी मुख्या मांगे थी-
1. गिरफ्तार छात्रों को तत्काल रिहा करो।
2. छात्रों पर लगे सभी फ़र्ज़ी मुक़दमे वापस लो।
3. सभी छात्रों का विश्वविद्यालय से निलंबन वापस लो।
4. विश्वविद्यालय में हुए छात्रों के फंड के दुरुपयोग की जांच करवाई जाए।

इस प्रदर्शन में SFI, AISA, NSUI, DYFI, RYA, AIPWA समेत स्वतंत्र छात्र नेता सुधांशु बाजपेयी, ज्योति राय, सुधाकर, अर्घवान आदि शामिल रहे।

इसके उपरांत SFI कार्यालय पर सभी छात्र संगठनों व स्वतंत्र एक्टिविस्टों की संयुक्त बैठक कर आगे की रणनीति तैयार की गई। जिसमें संयुक्त रूप से आगे की लड़ाई के लिए “दमन विरोधी मोर्चा” का गठन किया गया, जिसकी एक कोऑर्डिनेशन कमेटी का गठन किया गया जो कि समाज के सभी आंदोलनकारी संगठनों व स्वतंत्र एक्टिविस्टों से संपर्क कर छात्रो के समर्थन में व्यापक आंदोलन किया जाएगा।

Loading...