देश का चौकीदार खाता है काजू के आटे की रोटी, बॉर्डर पे गोली खाने वाले सैनिकों को मिलता है थर्ड क्लास खाना

देश का चौकीदार खाता है काजू के आटे की रोटी, बॉर्डर पे गोली खाने वाले सैनिकों को मिलता है थर्ड क्लास खाना
loading...

 

नोएडा, बीएसएफ जवान तेजबहादुर यादव ने सेना के अफसरों के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए देश में सनसनी फैला दी है। जवान का आरोप है कि हड्डियों को गला देने वाली ठण्ड में 11 घंटे खड़े रहते हुए नौकरी करने वाले जवानों को थांग का खाना नहीं मिलता है।

जवान ने सुबह नाश्ते और दोपहर में दिए जाने वाले खाने का वीडियो बना कर सोशल मीडिया में अपलोड कर दिया जो देखते ही देखते वायरल हो गया। जवान ने दिखाया कि कैसे ऐसे मुश्किल हालातों में उन्हें थर्ड क्लास कहना दिया जाता है।

सुबह नाश्ते में जले हुए पराठे और चाय. खाने में पानी जैसी पतली दाल और रोटी दाल ऐसी जिसमें नाम मात्र की दाल होती है बाकी पानी और हल्दी का घोल होता है। जवान ने आरोप लगाया कि जवानों को जी राशन भेजा जाता है उसे बड़े अधिकारी बाजार में बेच देते हैं और मुनाफ़ा कमाते हैं।

जिस देश का प्रधानमंत्री अपने आपको देश का चौकीदार कहता हो और खाने में काजू के आटे की रोटी खता हो उस देश की सुरक्षा में लगे हुए जवान को थर्ड क्लास खाना मिलता है।

सेना में बड़े अधिकारी सीनियरटी के नाम पे अपने से बड़ी उम्र के जवानो जो उनकी बाप की उम्र के होते हैं उनसे अपने जूतों के फीते बंधवाते हैं और कोई गलती होने पर उनपर हाथ तक उठा देते हैं। सेना में अधिकारी सेना के जवानों के शोषण करते है। अगर इसके खिलाफ कोई सैनिक आवाज उठता है तो उसे अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ता है।

जब इस जवान ने अधिकारियों के खिलाफ आवाज उठाई तो आज सेना के अधिकारी उसी जवान पर आरोप लगा रहे हैं। जिस सैनिक को 16 अवार्ड मिले हो और उसे ही सेना के अफसर कटघरे में खड़ा कर रहे हैं। सेना के बड़े अफसर किसे बचने की कोशिश कर रहे हैं।

जवान ने तो अब अपना मुंह खोला है कैग की रिपोर्ट में तो इसका पहले ही खुलासा हो चुका है कि सैनिकों को थर्ड क्लास कहना मिलता है।

loading...

loading...