यूपी पुलिस की भर्ती का रास्ता हुआ साफ, 30000 सिपाही और 3200 SI की होगी भर्ती, क्या अब इटावा से नहीं होगी भर्ती !

0
2188

लखनऊ, प्रधानमंत्री मोदी जी भले ही अपने वादे के अनुसार देश में हर साल 2 करोड़ रोजगार न दे पाए हों पर चुनाव अचार सहिंता की वजह से अखिलेश सरकार में रोकी गयी पुलिस भर्ती का रास्ता साफ हो गया है। अगर आप पुलिस में नौकरी करना चाहते हैं और सारी अर्हताएं पूरी करते हैं तो तैयार रहिए। जल्द ही उत्तर प्रदेश में पुलिस में बंपर भर्ती निकलने जा रही है। इसी महीने के अंत में तीस हजार सिपाहियों की भर्ती के लिए प्रक्रिया शुरू होगी।

डीजीपी सुलखान सिंह का कहना है कि जुलाई के अंतिम सप्ताह में उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड तीस हजार सिपाहियों और अगस्त के प्रथम सप्ताह में 3200 उप निरीक्षकों के पदों के लिए विज्ञप्ति जारी करेगा।

सुलखान सिंह ने बताया कि प्रदेश में अगले पांच वर्षों में डेढ़ लाख से अधिक पुलिस कर्मियों की भर्ती होनी है। हर साल 30 हजार सिपाही और 3200 दरोगा भर्ती करने की योजना है। लेकिन प्रशिक्षण के लिए पर्याप्त व्यवस्था होने पर हर साल 30 हजार से अधिक सिपाहियों की भी भर्ती की जा सकती है।

डीजीपी का कहना है कि पुलिस में खाली पदों को भरने की प्रक्रिया तेजी से शुरू की जा रही है। देरी लगने की वजह तैयारी है। कोशिश की जा रही है कि भर्ती प्रक्रिया एक बार शुरू हो तो बिना किसी रुकावट के निर्धारित अवधि में अंजाम तक पहुंचे। प्रक्रिया में ऐसी कोई खामी न रह जाए जिससे अभ्यर्थियों को अदालती चक्कर लगाने पड़ें।

डीजीपी ने बताया कि पिछली भर्ती प्रक्रिया जो प्रचलित हैं उन्हें जल्द पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। सिपाही से लेकर दरोगा तक की पिछली भर्ती प्रक्रिया जल्द पूरी होगी।

जो मामले अदालत में लंबित हैं उनके लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं कि जल्द निर्णय हो और भर्ती प्रक्रिया को संपन्न कराया जाए। 2011 की दरोगा भर्ती के लिए न्यायालय के आदेश पर दोबारा जीडी कराई गई है। जल्द ही परिणाम घोषित कर प्रक्रिया को आगे बढ़ाय जाएगा।

Loading...