नए इंडिया की शुरुआत – गुजरात में चुनाव से पहले हुआ दंगा, 5000 लोगों की भीड़ ने फूंके मुस्लिमों के घर, 2 की मौत

0
55

लखनऊ, गुजरात में विधानसभा चुनाव की तारीखों का अभी ऐलान भी नहीं हुआ है कि हिन्दू – मुस्लिम दंगों की शुरुआत हो गयी है। हो सकता है कि चुनाव में वोटों का ध्रुवीकरण कराने के उद्देश्य से इस तरह के कुकृत्य को अंजाम दिया गया हो।

जनसत्ता की खबर के मुताबिक गुजरात के पाटन जिले में वडवाली गांव में शनिवार (25 मार्च) को हुई साम्प्रदायिक झड़प में दो लोगों की मौत हो गई और अन्य 12 लोग घायल हो गए। जिन लोगों की इस झड़प में जान गई उसमें एक 25 साल का लड़का इब्राहिम बेलिम और एक 50 साल का शख्स शामिल है। 50 साल के शख्स की मौत की बात न्यूज एजेंसी भाषा ने कही है। पुलिस ने भीड़ को तितर बितर करने के लिए हवा में कई गोलियां भी चलाईं। लोगों ने वहां मकानों और वाहनों में आग लगा दी। पुलिस ने बताया कि शीर्ष पुलिस अधिकारी मौके पर रवाना हुए और राज्य रिजर्व पुलिस दल को तैनात कर दिया गया है। स्थिति फिलहाल नियंत्रण में बताई जा रही है। पुलिस के शीर्ष अधिकारी गांव में डेरा डाले हुए हैं।

ऐसे शुरू हुई लड़ाई: वहां के एक स्कूल में पढ़ने वाले दो छात्र 10 वीं के पेपर देकर क्लास से निकले थे। सीढ़ी से उतरने के दौरान ही दोनों के बीच बहस हुई और फिर लड़ाई शुरू हो गई। इसके बाद बाकी छात्र भी लड़ाई में कूद पड़े थे। फिर एक छात्र ने जाकर गांव में लड़ाई के बारे में बता दिया। जिसके बाद लगभग 5000 लोगों की भीड़ ने मुस्लिमों के एक गांव जिसका नाम वडवाली है उसपर धावा बोल दिया। इसमें लगभग 20 घरों को आग के हवाले कर दिया गया। वाहनों और बाकी प्रोपर्टी को भी आग लगा दी गई।

डर की वजह से कई मुस्लिम परिवार अपना घर छोड़कर पास के गांव में जाकर एक सुरक्षित स्थान पर छिप छिप गए थे। वडवाली में ज्यादातर आबादी मुस्लिम समुदाय की है।

Loading...