सहारनपुर में दंगा भड़काने वाले BJP सांसद पर कार्यवाई करने पर SSP को योगी ने लगाया ठिकाने

0
121
Loading...

कानपुर, सहारनपुर जिले में बीजेपी सांसद राघव लखनपाल, संसद के भाई राहुल लखन पाल, देवबंद से बीजेपी विधायक ब्रजेश समेत सैकड़ों समर्थकों ने बाबासाहेब अंबेडकर के नाम पर जबरन यात्रा निकालने का प्रयास किया था जिसके चलते दंगा भड़क गया था। इसके बाद सहारनपुर के एसएसपी लव कुमार ने दंगा रोकने की कोशिश की थी इसके विरोध में भाजपाई गुंडों ने एसएसपी के आवास पर हमला कर दिया था। अब खबर आ रही है कि जिस एसएसपी ने सहारनपुर को बचाया यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उसी एसएसपी लव कुमार का ट्रांसफर कर दिया है।

ये भी पढ़ें – सहारनपुर – सत्ता के नशे में चूर BJP सांसद ने SSP को दी धमकी – SSP नालायक है, SSP को हटवा दूंगा

लव कुमार मूलरूप से ज्योतिबाफुले नगर के रहने वाले हैं। उन्होंने दिल्ली में रहकर सिविल सेवा की तैयारी की। परिवार में पत्नी शक्ति डॉली, एक बेटा और बेटी है। लव कुमार कई महत्वपूर्ण जिलों के एसएसपी रह चुके हैं। चुनाव आयोग ने उन्हें सहारनपुर का एसएसपी बनाया था। इससे पहले वह बुलंदशहर, मुरादाबाद, अलीगढ़ व गोरखपुर के भी एसएसपी रह चुके हैं।

ये भी पढ़ें – सहारनपुर SSP आवास के बाहर तोड़फोड़ करने पर BJP सांसद समेत 500 पर FIR दर्ज, एसएसपी ने कहा किसी को छोडूंगा नहीं

आपको बता दें कि सहारनपुर में जुलूस का विरोध करने के बाद लखन पाल अपने समर्थकों के साथ भारी हुजूम में जबरन SSP के घर में घुस गए थे। जब यह वाकया हुआ तब लव कुमार अपने घर में मौजूद नहीं थे। बीजेपी सांसद लखन पाल अपने समर्थकों के साथ उत्तेजक नारेबाजी और पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए आवास के अंदर जबरन घुस गए थे। शोर-शराबे और बवाल के बाद घर में मौजूद SSP लव कुमार की पत्नी शक्ति और उनके दोनों बच्चे काफी घबरा गए थे। खुद एसएसपी लव कुमार की पत्नी ने बताया था कि भीड़ को घर में आता देख वे और उनके बच्चे डर गए थे।

ये भी पढ़ें – BJP MP का आतंक – बच्चों की आंखों में जो खौफ देखा, उसे नहीं भूल सकती – सहारनपुर SSP की पत्नी

वर्ष 2004 बैच के आइपीएस अधिकारी लव कुमार को गौतमबुद्धनगर का एसएसपी बनाया गया है। लव कुमार को प्रदेश के बेहद ईमानदार आइपीएस अधिकारियों में एक माना जाता रहा है। सहारनपुर में सांप्रदायिक संघर्ष के बाद एसएसपी आवास पर हुए बवाल के बाद लव कुमार पूरे देश में चर्चा में आए थे। आखिर ऐसा क्या हुआ कि जिस एसएसपी के घर पर भाजपाई गुंडों ने दिनदहाड़े घुसकर तांडव मचाया था उन एसएसपी का ट्रांसफर कर दिया गया जबकि आजतक सांसद की गिरफ्तारी नहीं हुई है।