इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में “समाजवादी छात्र सभा” ने झोंकी पूरी ताकत, पलड़ा भारी !

0
71

 

इलाहाबाद : उत्तर प्रदेश में विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव का शुमार छात्रों के सर चढ़कर बोल रहा है, इसी के तहत शुक्रवार को इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में हुए नामांकन के दौरान प्रत्याशियों और उनके समर्थकों में जबर्दस्त उत्साह दिखा। हालांकि इस उत्साह के बीच बवाल के बुलबुले भी बनते रहे। वहां मौजूद विश्वविद्यालय प्रशासन, पुलिस और जिला प्रशासन के अफसर मुख्य प्रवेश द्वार पर मौजूद थे और सुरक्षा कर्मियों को भी समझा दिया गया था कि प्रत्याशियों और उनके समर्थकों से बिल्कुल न उलझें। सामाजवादी छात्र सभा, एबीवीपी और एनएसयूआई पैनल के प्रत्याशियों के नामांकन जुलूस में मौजूद हजारों छात्रों को बैरिकेडिंग के बाहर रोक दिया गया था और लाउडस्पीकर से शांति व्यवस्था बनाए रखने की लगातार अपील की जा रही थी। सुबह नौ बजे शुरू हुई नामांकन प्रक्रिया पांच घंटे बाद पूरी हुई तो विश्वविद्यालय के आसपास की सड़कें पूरी तरह से पम्फलेटों से पट चुकी थीं।

Image may contain: 5 people, textसमाजवादी छात्र सभा पैनल के पाँचों प्रत्याशियों ने एक साथ नामांकन किया,जिसमे अध्यक्ष पद पर अवनीश यादव,उपाध्यक्ष पद पर चंद्रशेखर चौधरी, महामंत्री पद पर रोहित यादव,उपमंत्री पद पर भरत सिंह,सांस्कृतिक सचिव पद पर अवधेश पटेल शामिल रहे। वहीँ इस चुनाव में समाजवादी छात्र सभा को सबसे मजबूती के तौर पर देखा जा रहा है और उसके कई कारण है – पहला कि अबकी बार समाजवादी छात्र सभा के पैनल में आपसी विरोध नहीं है और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर कई बड़े नेता इस चुनाव की मॉनिटरिंग कर रहे हैं तथा दूसरा यह है कि पूरे देश में छात्रों का भाजपा के खिलाफ आक्रोश दिख रहा है,वहीँ अबकी बार इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में मुस्लिम हॉस्टल से कोई भी प्रत्याशी मैदान में नहीं आया है जिसका सीधा फायदा भी समाजवादी छात्र सभा को जाएगा । पिछले चुनाव में अजीत विधायक के मामूली वोटों के अंतर से हारने के बाद इस बार संगठन पूरी तरह से सतर्क है।

Prev1 of 3