इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में “समाजवादी छात्र सभा” ने झोंकी पूरी ताकत, पलड़ा भारी !

0
71
इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) छात्रसंघ चुनाव के नायक कौन होंगे, इस सवाल का जवाब 14 अक्तूबर को मतगणना के बाद मिलेगा। फिलहाल शुक्रवार को नामांकन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद संभावित चेहरे सामने आ गए हैं। छात्रसंघ चुनाव के विभिन्न पदों के लिए कुल 67 प्रत्याशियों ने पर्चे दाखिल किए। इलाहाबाद विश्वविद्यालय समेत इसके संघटक महाविद्यालयों इलाहाबाद डिग्री कॉलेज, ईश्वर शरण डिग्री कॉलेज और श्याम प्रसाद मुखर्जी राजकीय महाविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव के लिए कुल 136 उम्मीदवारों ने नामांकन कराया।
इविवि छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए सात, उपाध्यक्ष के लिए 11, महामंत्री के लिए आठ, संयुक्त मंत्री के लिए नौ, सांस्कृतिक सचिव के लिए पांच, स्नातक प्रतिनिधि के लिए 14 और परास्नातक एवं शोध प्रतिनिधि के लिए 13 प्रत्याशियों ने पर्चे दाखिल किए। वहीं, इलाहाबाद डिग्री कॉलेज में अध्यक्ष पद के लिए पांच, उपाध्यक्ष के लिए तीन, महामंत्री के लिए चार, संयुक्त मंत्री के लिए तीन, सांस्कृति सचिव के लिए तीन, कला संकाय के लिए तीन, वाणिज्य संकाय के लिए दो और विधि संकाय के लिए एक प्रत्याशी ने नामांकन कराया। ईश्वर शरण डिग्री कॉलेज में अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पद के लिए पांच-पांच, महामंत्री के लिए छह, संयुक्त मंत्री के लिए चार एवं सांस्कृतिक सचिव के लिए पांच और श्याम प्रसाद मुखर्जी राजकीय महाविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए पांच, उपाध्यक्ष पद के लिए चार, महामंत्री के लिए तीन, संयुक्त मंत्री के लिए तीन, सांस्कृतिक सचिव के लिए दो एवं संकाय प्रतिनिधि के लिए तीन उम्मीदवारों ने नामांकन कराया।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में इस बार वोटरों की संख्या कम हो गई है। पिछली बार चुनाव में कुल 20570 वोटर थे, जिनमें 14600 छात्र एवं 5970 छात्राएं थीं। इस बार विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में वोटरों की संख्या घटकर 19987 रह गई है। इनमें 13988 छात्र एवं 5999 छात्राएं शामिल हैं।

इविवि छात्रसंघ चुनाव में इस बार वोटरों के साथ प्रत्याशियों की संख्या में भी कमी आई है। पिछली बार 79 प्रत्याशियों ने नामांकन कराया था लेकिन इस बार नामांकन कराने वाले प्रत्याशियों की संख्या 67 हैं। पिछली बार छह छात्राएं चुनाव मैदान में थी और इस दफे चार छात्राओं ने पर्चे दाखिल किए हैं। वहीं, 2015 में 58 प्रत्याशियों ने नामांकन कराया था, जिनमें पांच छात्राएं और वर्ष 2014 में 63 प्रत्याशियों ने नामांकन कराया था, जिनमें तीन छात्राएं शामिल थीं। इविवि छात्रसंघ में महामंत्री पद पर आज तक कोई छात्रा निर्वाचित नहीं हुई। इस बार महामंत्री पद के लिए किसी छात्रा ने पर्चा ही दाखिल नहीं किया।

2 of 3

Loading...