बाढ़ के पानी से कही कपडे और जूते ना ख़राब हो जाए, पुलिसवालों की गोद में शिवराज सिंह चौहान

0
46

मध्य प्रदेश में भारी बारिश के कारण बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। यहां बाढ़ ने तबाही मचाई है लोग। कई परेशानियों का सामना कर रहे हैं। मध्य प्रदेश में आई बाढ़ ने राज्य के मुख्यमंत्री को भी परेशानी में डाल दिया।

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्य के उन इलाकों का दौरा करने निकले जहाँ पर पानी ने हाहाकार मचा रखा है। चौहान को बाढ़ के सर्वेक्षण के दौरान इस बात की फ़िक्र ज्यादा रही कि कहीं पानी उनके कपड़ों और जूतों को न खराब कर दे।

मुख्यमंत्री जब बाढ़ पीड़ितों के हालात का जायजा लेने पन्ना पहुंचे तो वह खुद ही मुसीबत का सामना करते दिखाई दिए। रोड पर करने के लिए शिवराज को पुलिस वालों को उन्हें गोद में उठाना पड़ा।

अब मुख्यमंत्री जी के कपडे और जूते कहीं ख़राब ना हो जाए तो पुलिसकर्मियों की गोद में बैठकर ही रोड पर की।

मुख्यमंत्री जी से एक सवाल तो बनता ही है की CM साहब आप जनता के सेवक है आपका फर्ज है जनता की सेवा करना वैसे इस तरह आपको पुलिसकर्मियों की गोद में नहीं उनके साथ कदम से कदम मिलकर चलना चाहिए था।

पुलिसकर्मियों की गोद में रोड पार करते शिवराज की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है इस तस्वीर के आधार पर विपक्ष और सभी राजनीतिक दल मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री खिल्ली उड़ा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल होने के बाद विपक्ष ने शिवराज की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि बाढ़ के पानी से घबराकर पुलिसवालों की गोद में जा बैठे मुख्यमंत्री।

शिवराज सिंह चौहान ने इस उलझन से छुटाकारा पाने का जो तरीका ढूँढा उसने बाढ़ से त्राही-त्राही कर रहे लोगों के चेहरों पर भी मुस्कान बिखेर दी। आप भी देखिये मध्य प्रदेश के वह मुख्यमंत्री जिन्हें गरीबों का मसीहा माना जाता है वह पानी में सुरक्षाकर्मियों की गोद में चढ़कर बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं।

Loading...