भयंकर गुंडाराज – योगी के विधायक ने टोल प्लाजा पर की गुंडागर्दी, टोल कर्मी को पीट पीट कर किया अधमरा

0
91

लखनऊ, “ना गुंडाराज ना भ्रष्टाचार” इसी चुनावी वादे के साथ भाजपा ने यूपी चुनाव में बड़ी सफलता हासिल की मगर सत्ता मिलने के बाद बीजेपी के नेताओं का असली रूप देखने को मिल रहा है। बीजेपी नेता विधायक अब गुंडई पर उतर आए हैं। कभी वो दरोगा को जान से मारने की धमकी देते हैं तो कभी टोल प्लाजा के कैमियों के साथ मारपीट ककर्ते हैं।

भाजपा के विधायक की गुंडई एक बार फिर देखने को मिली जब दिल्ली से आ रहे बिसवां, सीतापुर के भाजपा विधायक ने अपने समर्थकों के साथ बरेली में फतेहगंज पश्चिमी टोल प्लाजा पर जमकर गुंडई की। काफिला रोके जाने से नाराज कार्यकर्ताओं ने टोल कर्मचारियों से बदसलूकी की। उनके साथ मारपीट की।

यही नही समर्थकों के साथ विधायक खुद मैदान में कूद पड़े और टोल कर्मचारियों को पीटा। विधायक ने किसी भी वाहन का टोल टैक्स नहीं देने दिया और पूरे काफिले के साथ धमकी देते हुए वहां से रवाना हो गए। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। शिकायत के बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की है।

फतेहगंज पश्चिमी टोल प्लाजा पर विधायक की गुंडई का वीडियो 2 दिन बाद वायरल हो गया है। वीडियो वायरल होने के साथ ही पार्टी संगठन इस पर पर्दा डालने की कोशिश में जुट गया।

सीसीटीवी में जो रिकार्डिंग है, उसमें दिख रहा है कि विधायक अपने काफिले के साथ दिल्ली की तरफ से आ रहे थे। उनके साथ समर्थकों की गाड़ियां भी थीं। सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि टोल प्लाजा पर कर्मचारियों ने विधायक और उनके समर्थकों को रोका। उनसे टोल टैक्स मांगा।

फुटेज में साफ तौर पर नजर आता है की टोल ब्रिज पर विधायक की गाड़ी गुजरने के बाद उनके साथ चल रहे काफिले के वाहनों को टोल कर्मचारी रोकते हैं। पहले विधायक के समर्थकों की टोल कर्मचारियों से कहासुनी होती है। इसके बाद टोल का बैरियर पार कर चुकी विधायक की गाड़ी से कुछ लोग उतरते हैं। इसमें केसरिया कुर्ता पहने विधायक भी साथ आते हैं।

दोनों तरफ से पहले नोकझोंक होती है और फिर समर्थक टोल कर्मचारियों को पीटना शुरू कर देते हैं। टोल कर्मचारियों के साथ बदसलूकी और मारपीट के बाद विधायक खुद बैरियर पर खड़े होकर जबरन अपने काफिले के वाहनों को बगैर टोल टैक्स दिए निकालते हैं।

इसके बाद कर्मचारियों को धमकी देकर वह खुद भी वहां से निकल जाते हैं। इस वीडियो के वायरल होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। टोल मैनेजर वैभव शर्मा ने इसकी तहरीर भी फतेहगंज पश्चिमी थाने में दी है लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

विधायक की गुंडई का वीडियो वायरल होने के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। पुलिस साफ तौर पर सत्ता के दबाव में दिख रही है। भाजपा की सरकार बनने के बाद सत्ता पक्ष के विधायक की खुलेआम गुंडई को एसएसपी, एसपी देहात समेत अन्य अफसर दबाने में जुटे हैं। जबकि फुटेज में साफ दिख रहा है कि टोल प्लाजा पर मारपीट, गुंडई हुई है।

घटना की तहरीर थाने में देने के साथ ही आलाधिकारियों को भी सूचना दे दी गई है। इसके बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं होना पुलिस की मंशा पर सवाल खड़े कर रहा है। अधिकारियों ने मामले की जांच कराना तक उचित नहीं समझा। सरकार के बेहद करीबी माने जाने वाले जिले के आला अफसर ने तो मामला रफादफा करने के लिए दबाव तक बनाना शुरू कर दिया है।

भाजपा के विधायक ने कर्मचारियों के साथ मारपीट की थी। जबरन गाड़ियां वहां से निकाली। टोल टैक्स तक नहीं दिया। इसकी शिकायत फतेहगंज पश्चिमी थाने में की गई है लेकिन अब तक मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है। – वैभव शर्मा, टोल टैक्स मैनेजर

Loading...