यूपी का गुंडाराज – रिटायर्ड फौजी के बेटे की घर में घुसकर चाकुओं से गोदकर हत्या !

0
1

कानपुर, उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनते ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपराधियों को बड़ी चेतावनी देते हुए कहा था कि अपराधी उत्तर प्रदेश छोड़कर चले जाएं नहीं तो उन्हें दुनिया से बाहर भेज दिया जाएगा। आज 9 महीने सरकार जो पूरे हो चुके हैं न तो अपराध कम हुआ और न ही अपराधी उत्तर प्रदेश छोड़कर बल्कि अपराध के मामले में उत्तर प्रदेश टॉप पर पहुंच गया है। हत्या, लूट और बलात्कार जैसी घटनाएं लगातार बढ़ती ही जा रही है। सोमवार को इन घटनाओं में एक और घटना जुड़ गई जब महोबा में पूर्व फौजी के बेटे को घर नें घुसकर मौत के घाट उतार दिया गया।

महोबा जिले में एक रिटायर्ड एयर फोर्स के जवान के बेटे को तीन लोगों ने घर में घुसकर मौत के घाट उतार दिया। जानकारी के मुताबिक शहर के मोहल्ला मकनियापुरा में सोमवार दोपहर बाद घर में घुसे तीन हमलावरों ने रिटायर्ड फौजी के बेटे की चाकुआें से गोदकर हत्या कर दी। परिजनों ने शोर मचाया तो आरोपी मौके से भाग गए। अपर पुलिस अधीक्षक फोर्स के साथ अस्पताल पहुंचे और परिजनों से घटना की जानकारी ली। इस दौरान पता चला है कि हमलावरों में एक मकान बनाने वाला मजदूर था। पुलिस उस मजदूर की तलाश में जुट गई है।

शहर के मोहल्ला मकनियापुरा निवासी राजेंद्र कुमार गुप्ता एयरफोर्स के रिटायर्ड हैं। उनका बेटा पवन कुमार (22) सोमवार दोपहर घर पर था। इसी बीच तीन लोग कबाड़ खरीदने आए। पवन तीनों युवकों को लेकर दूसरी मंजिल पर रखा कबाड़ दिखाने गया। इसी बीच युवकों ने चाकुओं से हमला बोल दिया। इस बीच हमलावर भाग निकले। चीख पुकार सुन राजेंद्र कुमार दूसरी मंजिल पर पहुंचे और पवन को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

सूचना पर सीओ जितेंद्र दुबे और कोतवाली प्रभारी विक्रमाजीत पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जांच की। अपर पुलिस अधीक्षक वंशराज ने अस्पताल पहुंच मृतक के पिता से जानकारी ली। राजेंद्र कुमार गुप्ता ने बताया कि आरोपियों में एक मजदूर उनके यहां भवन निर्माण में मजदूरी का काम करता रहा है। वह दो अन्य लोगों के साथ पुराना दरवाजा व अन्य कबाड़ खरीदने के लिए लेकर आया था। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

Loading...