अभी नहीं संभले तो बर्बाद हो जाएगी देश की अर्थव्यवस्था – सुब्रमण्यम स्वामी

0
81

देश की अर्थव्यवथा दिन पर दिन गिरती जा रही है जिस तरह GDP गिरकर 5.7 प्रतिशत पर आ गयी है उसको लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर विपक्ष हमलावर है विपक्ष की तीखी आलोचना झेल रही मोदी सरकार को अब अपने नेताओं की भी आलोचना का शिकार होना पड़ रहा है।

भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने गिरती हुई अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। भारतीय अर्थव्यवस्था की मौजूदा स्थिति को लेकर अपनी चिंता जताते हुए स्वामी ने कहा कि अर्थव्यवस्था पटरी से उतर रही है और जल्द अगर जरूरी कदम नहीं उठाए गए तो ये बर्बाद हो सकती है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि उन्होंने करीब डेढ़ साल पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 16 पन्नों का खत लिखकर उन्हें गिरती अर्थव्यवस्था को लेकर चेताया था। एक टीवी चैनल को दिए गए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, आज अर्थव्यवस्था में अनियंत्रित गिरावट है। ये क्रैश हो सकती है। अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए हमें बहुत सी अच्छी चीजें करनी होंगी। अगर कुछ नहीं किया जाता है, तो हमारी अर्थव्यवस्था कमजोर होती चली जाएगी। बैंक बर्बाद हो सकते हैं, फैक्ट्रियां बंद होनी शुरू हो सकती हैं।

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि, पिछले साल मई में मैंने प्रधानमंत्री को उन्हीं के विभाग से निकाले गए आंकड़ों के साथ 16 पन्नों का खत लिखा था और उन्हें गिरती अर्थव्यवस्था की चेतावनी दी थी। वित्त वर्ष 2017-18 की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में GDP तीन साल के सबसे निचले स्तर 5.7 फीसदी पर पहुंच चुकी है। जबकि 2016-17 के वित्त वर्ष की पहली तिमाही में GDP 7.9 फीसदी के स्तर पर थी।

सुब्रमण्यम स्वामी ने दावा किया कि जो दिखाया जा रहा है असल में भारत की विकास दर उससे काफी कम है। उन्होंने कहा कि, GDP के आंकड़ों के बारे में जो आपको बताया जा रहा है, उससे ये कम है। इसे मैं सैम्युलसन-स्वामी थिओरी ऑफ इंडेक्स नंबर्स कहता हूं, उसके हिसाब से ये अभी और गिरेगी।

Loading...