स्वामी प्रसाद मौर्या ने रखी शर्त अगर ऐसा नहीं हुआ तो छोड़ देंगे भाजपा !

0
7214
Loading...

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेताओं में से एक स्वामी प्रसाद मौर्या ने भाजपा को लेकर एक चौकाने वाला बयान दिया है। इस बयान के बाद से राजनितिक गलियारों में चर्चा का माहौल गर्म है। भाजपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्या ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि, अंबेडकर के विचारों पर भाजपा के काम करने में अगर खोट नजर आई तो बर्दाश्त नहीं करूँगा मैं। छोड़ दूंगा मैं। स्वामी प्रसाद मौर्या ने आगे कहा कि मोदी जी पर कोई दो राय नहीं है कि उन्होंने अंबेडकर के सामाजिक न्याय को आगे बढ़ाया है।

स्वामी प्रसाद मौर्या ने बसपा और भाजपा के आतंरिक माहौल को बताते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी का कोई मुकाबला नहीं। सबका साथ और सबका विकास का काम मोदी जी ने ही कहा और किया है। मोदी जी एक ऐसी शख्सियत है, जिन्होंने अंबेडकर के विकासवादी सोच के मुताबिक मुद्रा परिवर्तन का कार्य किया।

स्वामी प्रसाद मौर्या ने कहा कि श्रमिक की दो बेटियों तक का शादी का खर्च सरकार उठाएगी। श्रम विभाग सामूहिक शादियां करवाएगा। इसमें श्रमिक की हर बेटी को 50 हज़ार रूपर दिए जाएंगे। बारिश के बाद शुभ लग्नों की शुरुआत तक इस योजना को हम प्रारम्भ कर देंगे।

उन्होंने कहा कि सेवायोजक और श्रमिक एक दूसरे के पूरक हैं। श्रमिक हित में विभाग है ही लेकिन सेवायोजक को भी सकारात्मक वातावरण देने के लिए हमें प्रयास करना है।

स्वामी प्रसाद ने कॉन्ट्रैक्ट आधारित नौकरियों पर बयान देते हुए कहा कि हमारा नजरिया एकदम साफ़ है। यहां युवकों का घोर शोषण सेवा प्रदाता एजेंसी करती थी। इस विषय में स्वयं मुख्यमंत्री भी बहुत गंभीर हैं और अब सेवा प्रदाता एजेंसियों को सेवायोजना वेबपोर्टल के माध्यम से काम करना होगा। इससे कॉन्ट्रैक्ट से नौकरी पाए हुए लोगों का शोषण रुकेगा।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में लगातार हुए घोटालों पर उन्होंने कहा कि अब सब मेरे राडार पर हैं, सीबीआई जांच करा भी सकते हैं। इस सरकार के पहले सौ दिन में हुए अनगिनत कार्य ऐतहासिक है और ध्यान रखियेगा कि यह सिर्फ झलक हैं। फिर भी विश्लेषण अभी नहीं बल्कि पूरे पांच साल पर करियेगा, तब लगेगा कि इस सरकार की सभी उपलब्धियां ऐतिहासिक हैं।

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव से पहले स्वामी प्रसाद मौर्या बसपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। विधानसभा चुनाव के दौरान भी उनकी भाजपा नेताओं से मनमुटाव की खन=ब्रेन सामने आईं थीं।

धोखेबाज हैं अमित शाह 30 सीटों का लालच देकर BSP छुड़वायी अब 3 सीट भी नहीं दे रहे – स्वामी प्रसाद मौर्या

 

Loading...