गुजरात चुनाव से पहले आयी इस खबर से BJP में आया भूचाल, हड़बड़ाहट में नहीं सूझ रहा कोई रास्ता !

0
2967
Loading...

अहमदाबाद, गुजरात में अगले तीन महीने में विधानसभा चुनाव होने हैं चुनाव की तारीखों का बहुत ही जल्द ऐलान भी कर दिया जाएगा। पिछले दो दशक से सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी के लिए इस बार का विधानसभा चुनाव आसान नजर नहीं आ रहा है जिसकी कई वजह हैं।

पहले तो नोटबन्दी की वजह से व्यापारी अभी उबर भी नहीं पाए थे कि GST के आ जाने से व्यापारियों की कमर टूट गयी। जिसके चलते गुजरात का व्यापारी वर्ग भाजपा से नाराज चल रहा है। जिसका इजहार गुजरात के व्यापारियों ने भारी भरकम जुलूस निकाल कर किया था। मगर सरकार की तरफ से कोई सुनवाई न होने से व्यापारी वर्ग और भी ज्यादा नाराज नजर आ रहा है। नाराजगी का आलम ये है कि व्यापारी अपनी बिल बुक में “हमारी भूल कमल का फूल” छपवा रहे हैं।

इन सबके बाद कल यानि रविवार को इंडिपेंडेंट मीडिया हाउस द वायर की तरफ से भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह को लेकर किए गए खुलासे भाजपा की चारों तरफ आलोचना हो रही है। खुलासे में कहा गया है कि अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी टेम्पल एंटरप्राइज की कमाई में 1 वर्ष में 16000 गुना की बढ़ोत्तरी हुई है।

जो कंपनी 2014 से पहले घाटे में चल रही थी और 2015 फाइनेंसियल ईयर में जिसका मुनाफा मात्र 18728 रुपए था वो मोदी सरकार आने के एक साल बाद ही मुनाफा 80.5 करोड़ हो गया। यही नहीं नोटबंदी से ठीक एक महीने पहले ही कंपनी को घाटे में दिखाकर बन्द कर दिया गया। सबसे बड़ी बात यह कि कंपनी को भाजपा के राज्यसभा सांसद परिमल नाथवानी जो कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के सीनियर एक्सिक्यूटिव भी हैं के समधी राजेश खंडवाला की कंपनी ने 15.78 करोड़ रुपये का असुरक्षित लोन दिया। सबसे बड़ी बात जिस कंपनी ने 15.78 करोड़ का कर्ज दिया उसकी नेट वैल्यू ही 7.8 करोड़ रुपये है।

मीडिया मवीं इस खबर के आने के बाद से भाजपा में भूचाल आ गया है। हालांकि गोदी मीडिया ने अभीतक इस पर कोई डिबेट ऑर्गनाइज नहीं कराया है। भाजपा की तरफ से केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने आनन फानन में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के द वायर के खिलाफ 100 करोड़ का मानहानि का मुकदमा करने की बात कही।

यहां सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि क्या प्राधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जय शाह-‘जादा’ के इस काले खेल के बारे में पता था जो उन्होंने शाहजादा को खाने की खुली छूट दे रखी थी। या फिर जो 80.5 करोड़ रुपये का झोलझाल हुआ है वो ब्लैक मनी था। जिसे शाह ने बेटे की कंपनी से सफेद करवाया।

अमित शाह के बेटे के खिलाफ छपी खबर से भाजपा में आया भूचाल, गोयल बोले- ठोकेंगे 100 करोड़ का मुकदमा !

Loading...